जिले की मंडियों में बारिश से 8 लाख से अधिक गेहूं के बैग भीगे

Kaithal News - सोमवार देर रात अचानक मौसम ने करवट ली। पहले अंधड़ फिर बरसात शुरू हुई। बेमौसमी बारिश से जहां खेतों में गेहूं कटान व...

Bhaskar News Network

Apr 17, 2019, 07:51 AM IST
Kaithal News - haryana news more than 8 lakh bags of wheat bagged by rain in mandi mandals
सोमवार देर रात अचानक मौसम ने करवट ली। पहले अंधड़ फिर बरसात शुरू हुई। बेमौसमी बारिश से जहां खेतों में गेहूं कटान व उठान का कार्य बाधित हो गया वहीं जिले की मंडियों में करीब 8 लाख से अधिक बैग बारिश में भीग गए। इससे गेहूं की क्वालिटी पर असर पड़ने का अनुमान लगाया जा रहा है। मंडी में आई जिन ढेरियों में नमी की मात्रा 12 प्रतिशत से अधिक पाई गई उन्हें एजेंसी ने नहीं खरीदा। इससे अब किसान अपनी फसल को सुखाकर ही बेच पाएंगे। वहीं मंडियों में अभी गेहूं लिफ्टिंग का कार्य शुरू तक नहीं हो पाया है, खरीदा गया गेहूं भी खुले में पड़ा है। दूसरी तरफ मौसम वैज्ञानिकों के मुताबिक बुधवार को भी संकट के बादल आसमान में छाए रहेंगे, बरसात भी हो सकती है। अगर और बारिश हुई तो गेहूं व सरसों की फसल को काफी नुकसान पहुंचेगा। इसको लेकर किसानों की चिंता बढ़ गई है।

जिला की सभी 39 मंडियों/परचेज सेंटरों पर अब तक 4 लाख 23 हजार 850 क्विंटल गेहूं की खरीद हुई है। जबकि कुछ मंडियों से पिछले दो दिनों से एजेंसियों द्वारा खरीद न करने से अनेक ढेरियां मंडियों में पड़ी हैं। खुले आसमान के नीचे पड़ी गेहूं बारिश से भीग गई है। निचले क्षेत्र में डाली गई ढेरियों के आसपास बारिश का पानी फैल गया। कुछ किसानों ने तिरपाल आदि डालकर फसल को भिगने से बचाने का प्रयास किया। किसान राजबीर, हरिकिशन, सोनू व रामप्रसाद ने बताया कि वे फसल लेकर मंडी में आए तो गेहूं में नमी की मात्रा अधिक बताकर एजेंसी ने खरीद नहीं की। अब ऊपर से खतरे के बादल छाए हैं। अगर बारिश और हुई तो उनकी तो मेहनत पर पूरी तरह से पानी फिर जाएगा।

किस एजेंसी ने कितना खरीदा गेहूं : सोमवार शाम तक जिला की मंडियों में खरीदे गए 4 लाख 23 हजार 850 क्विंटल गेहूं में से एजेंसी फूड सप्लाई से सबसे ज्यादा 1 लाख 61 हजार 540 क्विंटल की खरीद की है। एफसीआई ने 1 लाख 57 हजार 660 क्विंटल, हैफेड एजेंसी ने 78 हजार 880 क्विंटल, वेयरहाउस ने 2577 क्विंटल गेहूं की खरीद की है। अकेले कैथल मंडी में अब तक 1 लाख 34 हजार 925 क्विंटल की खरीद हो चुकी है, लेकिन उठान एक भी बैग का नहीं हुआ। मंगलवार को मंडी में कुछ ही ढेरियों को खरीदा गया, बाकी में नमी की मात्रा अधिक बताते हुए छोड़ दिया गया। सरसों खरीद के अलॉट की गई कलायत व राजौंद मंडी में अब तक करीब 4 हजार क्विंटल सरसों की आवक हुई है।

कैथल|नई अनाज मंडी में आई गेहूं बारिश से भीग गई।

X
Kaithal News - haryana news more than 8 lakh bags of wheat bagged by rain in mandi mandals
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना