जीआईसी नंबर अलाॅट न करने से नाराज प्राथमिक शिक्षकों ने जताया राेष, प्रदर्शन

Bhaskar News Network

May 18, 2019, 07:21 AM IST

Kaithal News - प्राथमिक शिक्षकों ने एक बैठक कर शिक्षा विभाग द्वारा जीआईएस का नंबर नहीं देने पर रोष प्रकट किया। बैठक दौरान राजकीय...

Cheeka News - haryana news pregnant primary teachers protested against not taking gic number
प्राथमिक शिक्षकों ने एक बैठक कर शिक्षा विभाग द्वारा जीआईएस का नंबर नहीं देने पर रोष प्रकट किया। बैठक दौरान राजकीय प्राथमिक शिक्षक संघ के जिला महासचिव सुरेश द्रविड़ ने कहा कि जीआईएस किसी भी कर्मचारी के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण होता है, लेकिन शिक्षा विभाग हरियाणा इसके प्रति जरा भी गंभीर नहीं है।

उन्होंने कहा कि जीआईएस का तात्पर्य है ग्रुप इंश्योरेंस स्कीम से हैं जिसके अंतर्गत कर्मचारियों का बीमा होता है और यह बीमे की राशि कर्मचारी की सेवानिवृत्ति पर दी जाती है। उन्होंने बताया कि सरकारी सेवा के दौरान किसी कर्मचारी के अचानक दुर्घटना ग्रस्त हो जाने पर भी इसका लाभ उसे कर्मचारी को दिया जाता है।

द्रविड़ ने बताया कि खंड गुहला में वर्ष 2000 के पश्चात शिक्षा विभाग में नियुक्त कर्मचारियों को जीआईएस नंबर अभी तक अलाट नहीं किए गए है। यह केवल खंड गुहला की ही नहीं अपितु पूरे कैथल जिले की यही स्थिति है। उन्होंने कहा कि सरकार की इस योजना के प्रति विभाग के कर्मचारियों व अधिकारियों का गंभीर न होना इस योजना पर कई सवालिया निशान खड़े करता है। सुरेश द्रविड़ का कहना है कि शिक्षा विभाग की व्यवस्था दिन प्रतिदिन जर्जर होती जा रही है।

विभाग के आला अधिकारी जानबूझकर विभाग में समस्याएं बना कर रखना चाहते हैं। नीलम रानी केश में जहां कुछ अध्यापकों को तीन से साढ़े तीन लाख रुपए दिए गए हैं वही वहीं कुछ शिक्षकों को मात्र 50 हजार में ही संतोष करना पड़ा। इसी प्रकार की बंदरबांट एलटीसी के मामलों में भी की जा रही है, जिससे विभाग भ्रष्टाचार का अड्डा बनता जा रहा है।


X
Cheeka News - haryana news pregnant primary teachers protested against not taking gic number
COMMENT

किस पार्टी को मिलेंगी कितनी सीटें? अंदाज़ा लगाएँ और इनाम जीतें

  • पार्टी
  • 2019
  • 2014
336
60
147
  • Total
  • 0/543
  • 543
कॉन्टेस्ट में पार्टिसिपेट करने के लिए अपनी डिटेल्स भरें

पार्टिसिपेट करने के लिए धन्यवाद

Total count should be

543