कालांवाली

--Advertisement--

5 घंटे तक देरी से पहुंचीं ट्रेनें, बसें हुईं धीमी

भास्कर न्यूज | सिरसा/ कालांवाली सर्दहवाएं चलने से मौसम के तेवर और तीखे हो गए हैं। शुक्रवार को अधिकतम तापमान 21...

Dainik Bhaskar

Jan 06, 2018, 02:15 AM IST
भास्कर न्यूज | सिरसा/ कालांवाली

सर्दहवाएं चलने से मौसम के तेवर और तीखे हो गए हैं। शुक्रवार को अधिकतम तापमान 21 डिग्री सेल्सियस तो न्यूनतम तापमान 6 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ। हालांकि दिन में कुछ देर गुनगुनी धूप भी खिली लेकिन शीत लहर ने उस गुनगुनी धूप की उष्मा को कमजोर बनाए रखा। इस बीच कोहरे ने भी वाहन चालकों की मुश्किलों में और ज्यादा इजाफा कर दिया। ट्रेनें भी अपने गंतव्य पर लगभग पांच घंटे देरी से पहुंचीं। बसें भी निर्धारित समय से लेट रहीं।

यात्रियोंको सलाह मिली : नेट पर देखें स्टेट्स

कालांवाली।कंपकंपा देने वाली सर्दी से जहां जनजीवन प्रभावित होने लगा है। वहीं सड़कों पर बसों अन्य वाहनों की रफ्तार जबकि रेल पटरियों पर ट्रेनों की रफ्तार भी कम होने लगी है। शुक्रवार को कोहरा होने की वजह से किसान एक्सप्रेस करीब 5 घंटे लेट हुई तो उसका असर अन्य ट्रेनों पर ही हुआ। रेलवे स्टेशन के पूछताछ केंद्र पर आने वाले यात्रियों को अब मोबाइल नेट पर भी ट्रेन का स्टेटस देखने की सलाह दी जाने लगी है।

कालांवाली स्टेशन अधीक्षक मनोज कुमार ने बताया कि घने कोहरे की वजह से ट्रेनों को रोकना पड़ता है ताकि दुर्घटना को टाला जा सके। ट्रेन की गति काफी धीमी रखनी होती है इसलिए ट्रेनें निर्धारित समय से देरी से अपने गंतव्य पर पहुंच रही हैं। इस दौरान यात्रियों को भारतीय रेलवे की साइट की मदद लेनी चाहिए ताकि उससे यह पता चल सके कि कौन सी ट्रेन कितने बजे स्टेशन पर पहुंचेगी।

कोहरे के चलते शुक्रवार को श्रीगंगानगर से रेवाड़ी ट्रेन अपने निर्धारित समय से करीब आधा घंटा देरी से पहुंची जबकि हिसार से जींद जाने वाली पैसेंजर ट्रेन अपने निर्धारित समय से करीब 35 मिनट देरी से पहुंची। उधर, किसान एक्सप्रेस अपने निर्धारित समय से करीब 5 घंटे देरी से कालांवाली पहुंची। रेवाड़ी से फाजिल्का जाने वाली पैसेंजर ट्रेन अपने निर्धारित समय से करीब एक घंटा देरी और रेवाड़ी से बठिंडा जाने वाली पैसेंजर अपने निर्धारित समय से करीब डेढ़ घंटा देरी से पहुंची।

कोहरे के कारण 5 घंटे देरी से पहुंची किसान एक्सप्रेस।

X
Click to listen..