Hindi News »Haryana »Kalanwali» पंजाब जाने वाली ट्रेनों से हो रही शराब की तस्करी

पंजाब जाने वाली ट्रेनों से हो रही शराब की तस्करी

नशाखोरी का कारोबार करने वाले तस्कर अब सिरसा से पंजाब जाने वाली ट्रेनों के जरिए शराब तस्करी का धंधा धड़ल्ले से करने...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 08, 2018, 02:25 AM IST

नशाखोरी का कारोबार करने वाले तस्कर अब सिरसा से पंजाब जाने वाली ट्रेनों के जरिए शराब तस्करी का धंधा धड़ल्ले से करने लगे हैं। इसके अलावा स्टेशन पर कुछ अन्य आपराधिक घटनाएं भी अक्सर होती रहती हैं लेकिन स्टेशन पर सीसीटीवी कैमरे न होने की वजह से अपराधियों की न तो पहचान हो पा रही है और न ही वे जीआरपी पुलिस की गिरफ्त में आ रहे हैं। पुलिस को ट्रेन के विभिन्न डिब्बों में अवैध शराब की बोतलें तो मिल जाती हैं लेकिन वे लावारिस होती हैं। ऐसे विभिन्न मामले पुलिस के संज्ञान में आ चुके हैं।

ट्रेनों में छापेमारी कर जीआरपी ने पिछले दिनों अवैध शराब के कुछ मामले पकड़े भी हैं। इनमें से ज्यादातर मामले कालांवाली और डबवाली रेलवे स्टेशन से जुड़े हुए हैं। 5 जनवरी को पंजाब जाने वाली ट्रेन में पुलिस ने कालांवाली रेलवे स्टेशन से 5 बोतल अवैध शराब और 2 पेटी देसी शराब बरामद की। वहीं डबवाली से 12 बोतलें नाजायज शराब के साथ पुलिस ने एक व्यक्ति को काबू भी किया। सिरसा स्टेशन और आसपास स्टेशनों पर भी ट्रेनों में मिली अवैध शराब के 4 मामलों में अज्ञात लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। शराब तस्करी को ज्यादा कारोबार हरियाणा से पंजाब जाने वाली ट्रेनों के जरिए हो रहा है क्योंकि ज्यादातर ट्रेनें बिना जांच किए ही स्टेशन से निकल जाती हैं। अवैध शराब के कारोबारी चुपचाप ट्रेन के किसी डिब्बे में कहीं न कहीं छुपी हुई शराब की पेटियां रख जाते हैं।

कालांवाली मर्डर मामले का भी नहीं लगा सुराग

कालांवाली रेलवे स्टेशन के पास बीते साल 28 नवंबर को दो अज्ञात लुटेरों ने लूटपाट का प्रयास करते हुए चाकू से प्रहार कर कालांवाली निवासी धर्मकांटा व्यापारी सुरेंद्र कुमार उर्फ छिंदा की हत्या कर दी थी। जीआरपी थाना में अज्ञात के खिलाफ हत्या का केस भी दर्ज है। लेकिन अभी तक पुलिस हत्यारों का सुराग नहीं लगा सकी है। जबकि पुलिस ने हत्यारों का सुराग बताने वाले को 50 हजार रुपये इनाम देने के ऐलान भी किया हुआ है। पुलिस का भी मानना है कि अगर कालांवाली स्टेशन पर सीसीटीवी कैमरे लगे होते तो संभवतया हत्या आरोपी अब तक पकड़े जा सकते थे।

दो माह में दर्ज हुए दो मामले

मामला 1 :-
राजस्थान से पंजाब जा रही ट्रेन में 2 फरवरी 2018 को पुलिस ने छापेमारी कर 5 बोतल नाजायज शराब पकड़ी थी। यह छापेमारी डबवाली रेलवे स्टेशन पर की थी। वहीं मौके से पंजाब के किल्यांवाली निवासी व्यक्ति को काबू भी किया था। जिसके खिलाफ पुलिस ने विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है।

मामला-2 :- 20 जनवरी 2018 को रेवाड़ी से गंगानगर जाने वाली ट्रेन सिरसा पहुंची, तो जीआरपी थाना की टीम ने गाड़ी में यात्रियों के समान की तलाशी ली। जहां ट्रेन के एक डिब्बे में 20 बोतल देशी शराब बरामद हुई। लेकिन वह शराब लावारिस थी।

ट्रेनों में बढ़ाएंगे पुलिस गश्त

स्टेशनों पर यात्रियों की सुरक्षा के लिहाज से पुलिस टीमें अलर्ट रहती हैं। सभी ट्रेनों में जांच भी समय-समय पर की जाती है। यह ठीक है कि पंजाब जाने वाली ट्रेनों में अवैध शराब के मामले सामने आए हैं। लेकिन ज्यादातर मामलों में लावारिस शराब ही मिली है। हालांकि कुछ लोगों को काबू किया है और अंकुश लगाने के लिए ट्रेनों में गश्त में इजाफा किया जाएगा।'' अमरनाथ, एसएचओ, जीआरपी थाना, सिरसा

स्टेशनों पर सीसीटीवी लगाने का है प्रस्ताव

रेलवे स्टेशनों पर सीसीटीवी कैमरे लगाने का प्रस्ताव है। इस संबंध में कुछ रेल यात्रियों और समाजसेवी संस्थाओं की ओर से भी प्रस्ताव आए हैं। उम्मीद है जल्द सीसीटीवी कैमरे लगाने के प्रस्ताव को रेलवे विभाग से स्वीकृति मिलेगी।'' सीआर कुमावत, सीनियर डीसीएम, बीकानेर रेल मंडल

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kalanwali

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×