• Hindi News
  • Haryana News
  • Kalanwali
  • वैरागी आंचल जैन का दीक्षा ग्रहण करने से पूर्व हुआ तिलक समारोह
--Advertisement--

वैरागी आंचल जैन का दीक्षा ग्रहण करने से पूर्व हुआ तिलक समारोह

पंजाब के बठिंडा निवासी वैरागी आंचल जैन ने अपने नाना से प्रेरित होकर जैन धर्म के अनुसार दीक्षा लेने का निर्णय लिया...

Dainik Bhaskar

Jan 15, 2018, 02:25 AM IST
पंजाब के बठिंडा निवासी वैरागी आंचल जैन ने अपने नाना से प्रेरित होकर जैन धर्म के अनुसार दीक्षा लेने का निर्णय लिया है। वैरागी आंचल जैन का दीक्षा ग्रहण करने से पूर्व दादू रोड़ स्थित एसएस जैन सभा में मकर संक्रांति के उपलक्ष्य पर महासाध्वी श्रेष्ठा महाराज के सानिध्य में तिलक समारोह व शोभा यात्रा का आयोजन किया गया।

जैन धर्म में दीक्षा एक ऐसा कर्मकांड है जिसके अनुसार इंसान अपने सांसारिक सुख-आराम त्यागने का फैसला लेता है और किसी भी प्रकार की संपत्ति, पारिवारिक रिश्तों इत्यादि जैसे सांसारिक बंधनों से खुद को मुक्त कर लेता है। रविवार को महासाध्वी स्वर्ण कांता महाराज की पोत्र शिष्या और महासाध्वी सुधा महाराज की शिष्या पंजाब वीरांगना किरण महाराज की सुशिष्य वैरागी आंचल जैन के तिलक समारोह को लेकर शहर में शोभा यात्रा निकाली गई। इस दौरान वैरागी आंचल जैन को दुल्हन की तरह सजाया गया। कार्यक्रम मेंं हलका विधायक बलकौर सिंह व हलोपा नेता निर्मल सिंह मलड़ी ने विशेष तौर पर शिरकत की। आंचल जैन के धर्म के पिता नरेश गर्ग जैन की अनाज मंडी स्थित दुकान से नमस्कार मंत्र का जाप करते हुए शुरू की गई। एसएस जैन सभा के प्रधान संदीप जैन ने बताया कि वैरागी आंचल जैन की दीक्षा 22 अप्रैल को महासाध्वी स्वर्ण कांता महाराज की तपोस्थली अम्बाला शहर के जैन स्थानक में होगी। इस मौके पर रूलदू राम, संदीप, पूर्व पार्षद वेद प्रकाश, तरसेम गर्ग, महेश, हैैप्पी, मक्खन, मंगत राय, आजाद, नंदन, विपिन, लवलीन, पारस, नेमचंद, अमन रहे।

कालांवाली। वैरागन आंचल जैन को दीक्षा से पूर्व तिलक की रस्म अदा करते धर्म के मां-बाप।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..