• Home
  • Haryana News
  • Kalanwali
  • कालांवाली। शहर की सुरक्षा के लिए थाना प्रभारी से मिलते हुए विधायक बलकौर सिंह।
--Advertisement--

कालांवाली। शहर की सुरक्षा के लिए थाना प्रभारी से मिलते हुए विधायक बलकौर सिंह।

कालांवाली। शहर की सुरक्षा के लिए थाना प्रभारी से मिलते हुए विधायक बलकौर सिंह। व्यवस्था सुरक्षा...

Danik Bhaskar | Feb 01, 2018, 02:25 AM IST
कालांवाली। शहर की सुरक्षा के लिए थाना प्रभारी से मिलते हुए विधायक बलकौर सिंह।

व्यवस्था

सुरक्षा बंदोबस्तों पर चर्चा करने थाने पहुंचे विधायक

विधायक ने कहा, अपराध बढ़ने से लोगों में बढ़ रहा खौफ

भास्कर न्यूज | कालांवाली

शहर में लोगों की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर कालांवाली थाना में अतिरिक्त पीसीआर गाड़ी का प्रबंध करने, थाने में स्टॉफ बढ़ाने का आश्वासन पूरा नहीं होने पर बुधवार को कालांवाली के विधायक बलकौर सिंह ने थाना प्रभारी ओमप्रकाश से मुलाकात कर उक्त मुद्दों पर चर्चा की।

उल्लेखनीय है कि 18 जनवरी रात को अज्ञात लोगों ने वाटर वर्क्स रोड पर घर के सामने दो व्यापारी भाइयों सहित तीन व्यक्तियों पर रॉड से जानलेवा हमला कर उन्हें घायल कर दिया था। इस घटना को लेकर शहरवासियों ने पुलिस प्रशासन के खिलाफ शहर बंद कर ओढ़ां कैंचियां पर धरना प्रदर्शन किया था और ओढ़ां-डबवाली रोड को जाम कर दिया था। करीब 6 घंटे चले इस घटनाक्रम के बाद डबवाली के डीएसपी किशोरी लाल ने प्रदर्शनकारियों की मांग पर कालांवाली के थाना प्रभारी को बदलने, थाना में स्टॉफ बढाने व गश्त के लिए अतिरिक्त पीसीआर गाड़ी का प्रबंध करने का आश्वासन दिया था। डीएसपी के आश्वासन के बाद शहरवासियों ने धरना प्रदर्शन समाप्त किया था। लेकिन 12 बीत जाने के बाद भी शहरवासियों की मांग पूरी नहीं हुई। पुलिस प्रशासन ने मात्र थाना प्रभारी को यहां से बदलकर औपचारिकता पूरी कर दी। जिसको लेकर लोगों में पुलिस प्रशासन के प्रति रोष पाया जा रहा है। बुधवार को कालांवाली के विधायक बलकौर सिंह ने नवनियुक्त थाना प्रभारी ओमप्रकाश से मुलाकात कर इस संबंध में चर्चा की। विधायक बलकौर सिंह ने कहा कि शहर में पुलिस की बजाए आपराधिक लोगों का खौफ ज्यादा है। पुलिस की कमी के चलते आपराधिक घटनाओं में लगातार बढ़ोतरी हुई है और पुलिस प्रशासन मूकदर्शक बना हुआ है। उन्होंने कहा कि शहर में लूटपाट की कई घटनाएं हो चुकी है लेकिन किसी का भी सुराग हाथ नहीं लगा। जिस कारण लोगों में भय का माहौल पाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि पुलिस प्रशासन ने जनता के साथ जो वायदा किया था उसे पूरा करना चाहिए और लोगों की सुरक्षा को देखते हुए तुरंत प्रभाव से कालांवाली थाना में स्टॉफ बढ़ाना चाहिए और पीसीआर का प्रबंध करना चाहिए।

कालांवाली में अतिरिक्त पीसीआर और थाने में पुलिस कर्मचारियों की संख्या बढ़ाने की मांग नहीं पाई पूरी