Hindi News »Haryana »Kalanwali» बच्चों को कहानी व किस्सों के जरिए अच्छे और बुरे का ज्ञान कराएं : शर्मा

बच्चों को कहानी व किस्सों के जरिए अच्छे और बुरे का ज्ञान कराएं : शर्मा

बच्चों पर आए दिन हो रहे अपराधों को रोकने और अपराधों के प्रति उनको जागरूक करने के लिए यह जरूरी है कि बच्चों के...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 20, 2018, 02:40 AM IST

बच्चों पर आए दिन हो रहे अपराधों को रोकने और अपराधों के प्रति उनको जागरूक करने के लिए यह जरूरी है कि बच्चों के अभिभावक विभिन्न कहानी-किस्सों के जरिए उन्हें अच्छे व बुरे का ज्ञान कराएं।

यह बात जिला बाल सरंक्षण इकाई में कार्यरत काउंसलर कविता शर्मा और आउटरीच वर्कर चरणजीत कौर ने सिलसिलेवार कही। वे सोमवार को गांव कालांवाली स्थित आंगनवाड़ी सेंटर में आयोजित जागरूकता कार्यक्रम को संबोधित कर रही थीं।

उन्होंने मौजूद महिलाओं और बच्चों को गुड टच व बैड टच के अलावा पोक्सो एक्ट के बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने कहा कि देश, समाज और आस-पास के माहौल में नन्हे बच्चे भी सुरक्षित नहीं हैं। बच्चों को अनहोनी घटनाओं से बचाने के लिए उन्हें सही जानकारी देना बहुत जरूरी हो गया है। बच्चों के दोस्त बन कर उनसे खुलकर बातें करते रहना चाहिए ताकि वे बेझिझक आपबीती बताते रहें। विभिन्न फोटो और वीडियो के अलावा नहलाते समय आसान तरीके से बच्चे को गुड टच बैड टच के बारे में सिखाया जा सकता है। कोई आपको कैसे छूता है इसी से पता चलता है कि टच कैसा है। बच्चा इसे पहचानता है तो वह अपने आस-पास के अपराधी प्रवृत्ति के शख्स को भी पहचानने लग जाएगा। बच्चों को छेड़छाड़ और प्रताड़ना से बचाने के लिए सरकार ने विभिन्न कानून बनाए हुए हैं। उन कानून का उल्लंघन करने वालों को कड़ी सजा का भी प्रावधान है। अगर किसी बच्चे या उसके अभिभावक को ऐसी अनहोनी का आभास हो तो वह जिला बाल संरक्षण इकाई, पुलिस विभाग या जिला विधिक सेवाएं प्राधिकरण की मदद ले सकता है। अंत में आंगनवाड़ी केंद्र की इंचार्ज वीरपाल कौर ने सभी का आभार जताया। इस मौके पर आशा रानी, परमजीत कौर, रोशनी, बोलो देवी सहित अन्य महिलाएं भी थीं।

आंगनबाड़ी केंद्र में महिलाओं को जागरूक करती काउंंसलर कविता शर्मा।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kalanwali

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×