• Hindi News
  • Haryana News
  • Kalanwali
  • पहले उठान के चलते रुका तो अब मशीन में ऑनलाइन स्टॉक आने के कारण नहीं बंट पा रहा डिपो पर राशन
--Advertisement--

पहले उठान के चलते रुका तो अब मशीन में ऑनलाइन स्टॉक आने के कारण नहीं बंट पा रहा डिपो पर राशन

ठेकेदारऔर खाद्य आपूर्ति विभाग की खींचतान से निकलकर गोदाम से खुद राशन लेकर जाने वाले डिपू होल्डर अब नए संकट का...

Dainik Bhaskar

Jan 10, 2018, 05:15 AM IST
ठेकेदारऔर खाद्य आपूर्ति विभाग की खींचतान से निकलकर गोदाम से खुद राशन लेकर जाने वाले डिपू होल्डर अब नए संकट का सामना करने का मजबूर हो रहे हैं। विभाग की ओर से राशन बांटने वाली पॉश मशीन में अब तक राशन की एलोकेशन यानि स्टॉक को सेव नहीं किया है।

जिससे वे गरीब परिवारों को उनका राशन नहीं बांट पा रहे हैं। वहीं पात्र परिवार डिपू होल्डरों पर राशन नहीं देने का आरोप लगाकर झगड़ा करने पर उतारू हो रहे हैं। महीने के पहले सप्ताह में गरीबों तक राशन पहुंचाने का दावा करने वाले विभाग ने जनवरी माह के दस दिन बीतने के बाद भी उनको राशन नहीं दिया है। बताया जा रहा है कि प्रदेश में बाजरा घोटाला होने के बाद विभाग ने अपनी तकनीक को बदला है। अब पॉश मशीन में पहले राशन की एलोकेशन सेव नहीं की जाएगी। राशन जब डिपू पर पहुंच जाएगा उसके बाद ही मशीन में सेव किया जाएगा। तब जाकर राशन वितरण होगा। विभाग के अधिकारियों का कहना है कि इससे बाजरा घोटाला की तरह डिपू होल्डर बिना राशन आए उसकी स्लिप नहीं निकाल सकेंगे। इसके लिए प्रक्रिया जारी है। जैसे ही पूरी होती है। उसके बाद राशन बांटना शुरू कर दिया जाएगा। डीएफएससी अशोक बंसल ने कहा कि पॉश मशीन में राशन का स्टॉक सेव करने की प्रक्रिया शुरू की जा रही है। अगले एक दो दिन में प्रक्रिया पूरी हो जाएगी। वहीं सरसों का कॉन्फैड के गोदाम में आना शुरू हो गया है। जल्द ही वितरित होगा।

खाद्य आपूर्ति विभाग की ओर से ठेकेदार मंजीत सिंह का डिपुओं पर राशन पहुंचाने का ठेका बीच में ही रद्द करने के मामले में बुधवार को हाईकोर्ट में सुनवाई होगी। अगर स्टे नहीं होता है तो अगले माह भी राशन डिपू होल्डरों को अपने खर्चे पर उठाना पड़ेगा। नया ठेका मार्च में होगा।

सिरसा, कालांवाली, रोड़ी, मल्लेकां, डिंग मंडी और चौपटा क्षेत्र में रहने वाले गरीब परिवारों के लिए आया 22 हजार क्विंटल गेहूं बंटने के इंतजार में डिपुओं पर पड़ा है। मशीन में स्टॉक सेव होने के बाद ही यह राशन पात्र परिवारों को वितरित किया जाएगा। इस कारण चार लाख के करीब प्राथमिक परिवारों के सदस्य हर महीने मिलने वाली गेहूं से वंचित है।

कच्ची घानी का सरसों तेल भी कॉन्फैड के गोदाम में आया

पहलीबार सरकार गरीब परिवारों को एक एक लीटर सरसों का तेल देने जा रही है। अब सिरसा के कॉन्फैड गोदाम में 20 हजार लीटर तेल पहुंच गया है। बाकी भी अगले एक दो दिन में जाएगा। अगले सप्ताह तक उपभोक्ताओं को तेल भी राशन के साथ मिलना शुरू हो जाएगा। यहां बता दें कि सरकार ने दाल बंद करके सरसों का तेल शुरू किया है। यह 20 रुपये प्रति लीटर दिया जाएगा। यह तेल हैफेड की कच्ची घानी का तेल होगा।

सिरसा। राशन डिपू पर पहुंचा राशन पर खाद्य आपूर्ति विभाग ने पॉश मशीन से राशन बांटने की तकनीक में किया बदलाव,एलोकेशन आने पर बंटेगा राशन।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..