Hindi News »Haryana »Kalanwali» पूर्व की सरकारों ने अपना विकास किया भाजपा सबको साथ लेकर चली : गोयल

पूर्व की सरकारों ने अपना विकास किया भाजपा सबको साथ लेकर चली : गोयल

हरियाणा के उद्योग एवं वाणिज्य मंत्री विपुल गोयल ने उपमंडल के गांव चकेरियां में 29 लाख रुपये की लागत से बनने वाली...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jan 26, 2018, 02:05 PM IST

हरियाणा के उद्योग एवं वाणिज्य मंत्री विपुल गोयल ने उपमंडल के गांव चकेरियां में 29 लाख रुपये की लागत से बनने वाली व्यायामशाला व करीब 32 लाख की लागत से ओढ़ां रोड़ से जलालआना रोड तक गांव चकेरियां में आईपीबी फिरनी का शिलान्यास किया।

उन्होंने ग्रामीणों को गणतंत्र दिवस की बधाई देते हुए कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री ने शपथ लेते ही एक नारा दिया था, सबका साथ-सबका विकास। जिसके तहत आज आपके गांव में बनने वाली व्यायाम शाला व फिरनी का शिलान्यास किया गया है। प्रदेश सरकार हर हलके का समान विकास करवा रही है। उन्होंने कहा कि पूर्व में बनी सरकारों ने विकास कार्य न करवाकर केवल अपने परिवार का विकास करवाने का काम किया था। उन्होंने कहा कि देश के प्रधानमंत्री व प्रदेश के मुख्यमंत्री की एक ही सोच है कि हर गांव की समस्याओं को गंभीरता से लेते हुए विकास कार्य करवाए जाएं। उन्होंने कहा कि पिछले 10 वर्षों में इतना विकास कार्य नहीं हुआ, जितना पिछले तीन सालों में करवाया गया है। उन्होंने कहा कि योग्यता के आधार पर नौकरियां देने से युवाओं में शिक्षा के लिए रुझान बढ़ा है। इस अवसर पर ग्रामीणों की ओर से श्मशान घाट की चारदीवारी की मांग रखी गई, मंत्री ने यह मांग जल्द ही पूर्ण करवाने का आश्वासन दिया। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार किसानों व पर्यावरण के हित को देखते हुए पराली उद्योग लगाने का निर्णय लिया है। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में इस क्षेत्र में पराली से संबंधित उद्योग को बढ़ावा दिया जाएगा।

इस अवसर पर सरपंच अंग्रेज सिंह की ओर से मुख्यातिथि को स्मृति चिह्न देकर सम्मानित किया गया। इस मौके पर जिला पार्षद आदित्य देवी लाल, सरपंच अंग्रेज सिंह चकेरिया, चेयरमैन मनोज शर्मा पिपली, राजेंद्र सिंह, सुखबीर सिंह, अंग्रेज सिंह चोरमार, मंगल सिंह, सर्वजोत ज्योति, मंदीप सिंह, बलकौर सिंह खालसा उपस्थित रहे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kalanwali

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×