कालांवाली

  • Home
  • Haryana News
  • Kalanwali
  • छह महीने से वेतन न मिलने पर अनुबंधित फायर कर्मी बोले- घर चलाना हुआ मुश्किल
--Advertisement--

छह महीने से वेतन न मिलने पर अनुबंधित फायर कर्मी बोले- घर चलाना हुआ मुश्किल

नगर पालिका व मार्केट कमेटी की दमकल गाड़ी पर अनुबंध के आधार पर लगे कर्मचारियों को वेतन न मिलने पर रविवार को...

Danik Bhaskar

Apr 16, 2018, 02:15 AM IST
नगर पालिका व मार्केट कमेटी की दमकल गाड़ी पर अनुबंध के आधार पर लगे कर्मचारियों को वेतन न मिलने पर रविवार को उन्होंने डबवाली रोड पर स्थित दमकल केंद्र कार्यालय में विभाग के प्रति रोष जताते हुए वेतन दिलाने की मांग की।

अनुबंध पर कार्य कर रहे फायर चालक विजय, राकेश, सुभाष व फायरमैन हैप्पी, विजय, राकेश, मलकीत, प्रदीप, अनिल, नरेंद्र ने बताया कि नगर पालिका कालांवाली की ओर से पालिका की दमकल गाड़ी पर तीन फायर चालक व सात फायरमैन के पदों का ठेका हिसार की यूनाईटेड सिक्योरिटी कंपनी को दिया हुआ है। कंपनी के अधीन वह काफी समय से कार्य कर रहे हैं लेकिन करीब तीन माह से उन्हें वेतन नहीं दिया जिस कारण उन्हें परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने बताया कि जब उन्होंने पालिका प्रशासन से बात की तो उन्होंने बताया कि आपके ठेकेदार ने पालिका को बिल नहीं दिए तो वह बिना बिल के राशि कैसे जारी कर दे। उन्होंने कहा कि ठेकेदार पहले दस कर्मचारियों को वेतन देता था लेकिन अब वह नौ कर्मचारियों को ही वेतन देने की बात कर रहा है। जबकि वह पालिका से दस कर्मचारियों के बिल पास करवा रहा है। उन्होंने कहा कि वेतन नहीं मिलने के कारण उन्हें आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ रहा है।

इसी तरह मार्केट कमेटी की दमकल गाड़ी पर अनुबंध के आधार पर लगे कर्मचारियों ने करीब छह माह से वेतन न मिलने पर विभाग के प्रति रोष जताया। चालक बलदेव सिंह, बलवंत सिंह, सूरजभान व फायरमैन चानन, अंग्रेज, सुरेंद्र सिंह, राजदीप सिंह व गगनदीप सिंह आदि ने बताया कि वह सोना इंटरप्राइज कंपनी चंडीगढ़ के अधीन उक्त पदों पर कार्य कर रहे है। लेकिन उन्हें अक्टूबर माह से वेतन नहीं मिलने से उन्हें आर्थिक तंगी से जूझना पड़ रहा है। ठेकेदार का कहना कि उनकी हाजिरी लेट पहुंची थी जिस कारण उनका वेतन लटक रहा है यदि लेट फीस अदा कर दो तो बाकी वेतन जारी हो जाएगा।

समय पर भेजी थी हाजिरी

फायर अधिकारी पवन कुमार का कहना है कि उन्होंने समय पर उनकी हाजिरी भेजी थी। उसी हाजिरी डॉटा के तहत दो अन्य कर्मचारियों को वेतन दिया गया है लेकिन इनका वेतन बिना किसी कारण के रोक रखा है। वेतन को लेकर वे संबंधित अधिकारियों से मिल चुके हैं। उन्होंने कहा कि यदि उन्हें शीघ्र वेतन नहीं मिला तो वे डीसी सिरसा से मिलेंगे।

कालांवाली। वेतन न मिलने को लेकर रोष जताते हुए अनुबंध पर लगे कर्मचारी।

Click to listen..