Hindi News »Haryana »Kalanwali» पांच दिन से नहीं हो रही गेहूं की खरीद किसान-आढ़ती बोले- मंडी कर देंगे बंद

पांच दिन से नहीं हो रही गेहूं की खरीद किसान-आढ़ती बोले- मंडी कर देंगे बंद

खाद्य एवं आपूर्ति विभाग की ओर से गेहूं की खरीद बंद करने पर किसान और आढ़ती नाराज हो गए। आढ़तियों व किसानों ने एकत्रित...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 09, 2018, 02:25 AM IST

पांच दिन से नहीं हो रही गेहूं की खरीद किसान-आढ़ती बोले- मंडी कर देंगे बंद
खाद्य एवं आपूर्ति विभाग की ओर से गेहूं की खरीद बंद करने पर किसान और आढ़ती नाराज हो गए। आढ़तियों व किसानों ने एकत्रित होकर मार्केट कमेटी के चेयरमैन गुरचरण सिंह मत्तड़ के समक्ष अपनी नाराजगी व्यक्त की।

इस दौरान न्यू आढ़ती एसोसिएशन के प्रधान प्रदीप जैन ने मार्केट कमेटी चेयरमैन को किसानों व आढ़तियों को आ रही समस्याओं के बारे में अवगत करवाया। उन्होंने जल्द खरीद शुरू ना होने पर बुधवार को अनाज मंडी बंद कर रोष व्यक्त करने की चेतावनी भी दी। इस दौरान युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव शीशपाल केहरवाला भी अतिरिक्त अनाज मंडी में पहुंचे।

प्रधान प्रदीप जैन ने कहा कि खरीद एजेंसी डीएफसी की ओर से अनाज मंडी में गेहूं की खरीद की गई थी लेकिन सरकार की ओर से तीन मई से गेहूं की खरीद बंद करने के बाद आढ़तियों व किसानों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि अनाज मंडी में अभी भी हजारों क्विंटल गेहूं की ढेरियां पड़ी है। लेकिन सरकार ने समय से पूर्व ही खरीद बंद कर देने से किसान परेशान है। उन्होंने कहा कि खरीद एजेंसी हैफेड की ओर से मंडी में गेहूं की खरीद की जा रही है तो डीएफसी की ओर से क्यों नहीं खरीद की जा रही। उन्होंने बताया कि भाईचारे के तौर पर हैफेड की ओर से अतिरिक्त अनाज मंडी में व डीएफसी की ओर से अनाज मंडी में गेहूं की खरीद की गई लेकिन अब डीएफसी की खरीद बंद होने के बावजूद हैफेड भी अनाज मंडी में गेहूं की खरीद नहीं कर रही है जिस कारण परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

इस मामले को लेकर बुधवार को अनाज मंडी बंद करने का फैसला लिया है। युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव शीशपाल केहरवाला ने कहा कि सरकार की गलत नीतियों के कारण किसानों के साथ सभी वर्ग दुखी है। उन्होंने कहा कि ऐसा पहली बार है जब किसी सरकार ने समय से पूर्व खरीद बंद कर दी हो। उन्होंने कहा कि इससे पूर्व भी सरकार ने सरसों की खरीद को लेकर अनेक शर्तें लागू कर उन्हें परेशान किया। उन्होंने कहा कि किसानों को अपनी फसल बेचने के लिए अधिकारियों के हाथों लूटना पड़ रहा है, भाजपा सरकार में भ्रष्टाचार चरम सीमा पर है। इस मौके पर निगरानी कमेटी के चेयरमैन नरेश गर्ग, विनोद मित्तल, सरपंच सतेंद्रजीत सोनी, महेश झोरड़, शाम सुंदर, संयोग महेश्वरी उपस्थित थे।

कालांवाली। गेंहू खरीद बंद होने पर चेयरमैन गुरचरण सिंह से चर्चा करते हुए शीशपाल केहरवाला, प्रदीप जैन व अन्य।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kalanwali

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×