• Hindi News
  • Haryana News
  • Kalanwali
  • कालांवाली के राजकीय कन्या स्कूल में लगाए बच्चों को टीके
--Advertisement--

कालांवाली के राजकीय कन्या स्कूल में लगाए बच्चों को टीके

स्वास्थ्य विभाग के खसरा व रुबेला टीकाकरण अभियान के तहत बुधवार को कालांवाली के राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक...

Dainik Bhaskar

Apr 26, 2018, 02:45 AM IST
स्वास्थ्य विभाग के खसरा व रुबेला टीकाकरण अभियान के तहत बुधवार को कालांवाली के राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में डॉ. अभिनव सिहाग व विद्यालय के प्रधानाचार्य हवा सिंह की देखरेख में छात्राओं के खसरा व रुबेला के टीके लगाए गए।

प्रधानाचार्य हवा सिंह ने बताया कि टीकाकरण अभियान को लेकर स्कूल की ओर से पुख्ता प्रबंध किए गए। बच्चों के टीकाकरण के बाद उन्हें बिस्कुट व दूध की खुराक भी दी गई। डॉ. अभिनव सिहाग ने बताया कि रुबेला वायरस जिसे जर्मन मीजल्स भी कहा जाता है, एक विषाणुजनित संक्रमण है। इसमें पहले चेहरे पर गुलाबी-लाल चकत्ते उभरते हैं और बाद में ये शरीर में अन्य जगहों पर फैल जाते हैं। यह विषाणु करीब तीन दिन तक अपना असर दिखाता है। इसलिए इसे अक्सर ‘तीन दिन का खसरा भी कहा जाता है।

उन्होंने बताया कि जिन लोगों को रुबेला होता है, उनमें से करीब आधे लोगों को तो इसके कोई लक्षण महसूस नहीं होते। इसलिए उन्हें शायद पता भी नहीं चलता कि उन्हें रुबेला है। जिन लोगों में लक्षण सामने आते हैं, उनमें हल्का बुखार, गर्दन के पीछे लसीका पर्व में सूजन, सर्दी-जुकाम के लक्षण, गले में दर्द, आंखों में दर्द व संक्रमण के कुछ दिनों बाद चेहरे और गर्दन पर लाल धब्बेदार चकत्ते उभर सकते हैं और इनमें खुजली भी हो सकती है।

इस अभियान को लेकर स्कूल स्टाफ सदस्यों, आंगनबाड़ी वर्कर, आशा वर्कर ने पूरा सहयोग दिया। इस मौके पर स्कूल स्टॉफ सदस्य जगशरण सिंह, नेम पाल सिंह, जसपाल कौर, कर्मजीत कौर, श्याम सुंदर जुल्का, पूनम रानी, स्वर्णजीत कौर, उषा रानी, सुखविंद्र कौर, शांति देवी, डॉ. जितेंद्र सिंह, एएनएम दर्शना देवी, मुकेश, सुखजीत कौर, उषा रानी, रानी देवी उपस्थित रही।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..