Hindi News »Haryana »Kanina» शहीद अशोक की शहादत को पूरा देश सलाम करता है : सिंह

शहीद अशोक की शहादत को पूरा देश सलाम करता है : सिंह

शौर्य चक्र से सम्मानित शहीद हवलदार अशोक कुमार की 19वीं पुण्यतिथि मनाई गई। मुख्यातिथि एसडीएम संदीप सिंह, व पूर्व...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 02, 2018, 04:15 AM IST

शौर्य चक्र से सम्मानित शहीद हवलदार अशोक कुमार की 19वीं पुण्यतिथि मनाई गई। मुख्यातिथि एसडीएम संदीप सिंह, व पूर्व चेयरपर्सन संतोष देवी आदि ने शहीद हवलदार अशोक कुमार की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि दी। इस दौरान हवन का आयोजन भी किया गया।

एसडीएम संदीप सिंह ने कहा कि शौर्य चक्र से सम्मानित शहीद हवलदार अशोक कुमार की शहादत, बहादुरी व जज्बे को पूरा देश सलाम करता है। शहीद हवलदार अशोक कुमार की वीरांगना पूर्व नगरपालिका चेयरपर्सन संतोष देवी ने बताया कि शहीद अशोक कुमार दिल्ली पुलिस के दरियागंज थाने में हवलदार के पद पर कार्यरत थे। 31 दिसंबर 1999 की रात को गश्त पर थे। उसी दौरान किसी डकैती की घटना को अंजाम देकर भाग रहे कुख्यात डाकुओं पर उनकी नजर पड़ी और डाकुओं का पीछा करना शुरू कर दिया। इसमें दो डाकू एक तीन मंजिला इमारत की छत पर जा चढ़े पीछा करते हुए हवलदार अशोक कुमार भी उनके पीछे-पीछे छत पर पहुंच गए और मुठभेड़ शुरू हो गई। इसमें एक डाकू पर तो काबू पा लिया, लेकिन दूसरा डाकू छत की दीवार पर जा चढ़ा। जिसे पकड़ते हुए हवलदार अशोक कुमार तीन मंजिला इमारत की दीवार से नीचे कूद गए और जमीन पर गिरते ही गंभीर रूप से घायल हो गए, लेकिन डाकू पर काबू पा लिया। घायल हवलदार को दिल्ली के अस्पताल में उपचार दिलाया गया। जहां उपचार के दौरान वे वीरगति को प्राप्त हो गए। मरणोपरांत उनकी बहादुरी को देखते हुए शौर्य चक्कर से सम्मानित किए गए। कार्यक्रम में पूर्व नगरपालिका सचिव रोहतास, बाबू सुरेंद्र जोशी, समाजसेवी बलवान सिंह यादव, प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन के प्रधान जगदेव सिंह यादव, आर्य समाज के प्रधान मोहर सिंह आर्य, समाजसेवी कमल सिंह यादव, सिपाही दुष्यंत सिंह, अशोक वर्मा, पूर्व पालिका चेयरमैन मास्टर दलीप सिंह व नवीन मालड़ा आदि उपस्थित थे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kanina

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×