Hindi News »Haryana »Karnal» ‘मे आई हेल्प यू’ लिखने से सहायता केंद्र का उद्देश्य पूरा नहीं होता, मरीजों के लिए 24 घंटे स्टाफ जरूरी

‘मे आई हेल्प यू’ लिखने से सहायता केंद्र का उद्देश्य पूरा नहीं होता, मरीजों के लिए 24 घंटे स्टाफ जरूरी

चिकित्सा शिक्षा और अनुसंधान विभाग के निदेशक डाॅ. शालीन ने कल्पना चावला राजकीय मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल का...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 01, 2018, 02:25 AM IST

‘मे आई हेल्प यू’ लिखने से सहायता केंद्र का उद्देश्य पूरा नहीं होता, मरीजों के लिए 24 घंटे स्टाफ जरूरी
चिकित्सा शिक्षा और अनुसंधान विभाग के निदेशक डाॅ. शालीन ने कल्पना चावला राजकीय मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान डाॅ. शालीन ने मेडिकल कॉलेज के निदेशक सुरेंद्र कश्यप को सख्त निर्देश दिए कि अस्पताल में स्थापित सहायता केंद्र में मरीजों की सुविधा के लिए स्टाफ की उपलब्धता अवश्य सुनिश्चित करें। उन्होंने कड़े लहजे में कहा कि शीशे पर मे आई हेल्प यू के कागज चिपकाने से सहायता केंद्र का उद्देश्य पूरा नहीं होता है। 24 घंटे मरीजों की सुविधा के लिए स्टाफ उपलब्ध रहना चाहिए।

निरीक्षण के दौरान उपस्थित डॉक्टरों को दिशा-निर्देश देते हुए डॉ. शालीन ने कहा कि हरियाणा सरकार आमजन के लिए उपलब्ध करवाई जा रही स्वास्थ्य सुविधाओं के प्रति बेहद गंभीर है। इस उद्देश्य से सरकार ने प्रदेश के हर जिले में मेडिकल कॉलेज की स्थापना का लक्ष्य रखा है। ऐसे में मेडिकल कॉलेज के स्टाफ का भी यह कर्तव्य बनाता है कि हम स्वास्थ्य के क्षेत्र में बेहतर प्रबंधन करते हुए आमजन को अधिक से अधिक सुविधाएं प्रदान करें।

निदेशक ने कल्पना चावला मेडिकल कॉलेज के अस्पताल ब्लॉक, ओपीडी ब्लॉक व मेडिकल कॉलेज ब्लॉक का दौरा किया और वहां उपलब्ध सुविधाओं के बारे में विस्तार से जानकारी ली। निदेशक ने आपातकालीन ब्लॉक, नाजुक देखभाल अनुभाग (आईसीयू), सहायता केंद्र तथा लैब का भी निरीक्षण किया। उन्होंने प्रतिदिन आपातकालीन में आने वाले मरीजों तथा ओपीडी में आने वाले मरीजों की संख्या के बारे में भी विस्तार से जानकारी ली। साथ ही मेडिकल कॉलेज प्रबंधन द्वारा मरीजों को उपलब्ध करवाए जा रहे टोकन सिस्टम, कार्ड बनाने, ऑन स्क्रीन डिस्पले तथा ओपीडी व दवाई अनुभाग द्वारा मरीजों के लिए अपनाई जा रही प्रक्रिया के बारे में विस्तार से जानकारी ली और बेहतर प्रबंधन के दृष्टिगत आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

करनाल. मेडिकल कॉलेज में निरीक्षण के दौरान निदेशक डाॅ. शालीन डाॅक्टरों को दिशा निर्देश देते हुए।

नए बैच की शुरुआत को लेकर आधारभूत सुविधाओं पर चर्चा

इससे पूर्व उन्होंने मेडिकल कॉलेज के स्टाफ के साथ बैठक भी की। बैठक के दौरान मैडिकल कॉलेज में स्टाफ की स्थिति, मेडिकल उपकरणों की उपलब्धता, मेडिकल छात्रों के नए बैच की शुरुआत से संबंधित आधारभूत सुविधाओं तथा मेडिकल कॉलेज के प्रबंधन व संचालन को लेकर विस्तार से चर्चा की गई। इस मौके पर मेडिकल कॉलेज के डाक्टरों ने निदेशक को संस्थान से संबंधित कई समस्याओं से अवगत करवाया, जिसका निदेशक ने जल्द से जल्द हर संभव समाधान का आश्वासन दिया। इस मौके पर कल्पना चावला मेडिकल कॉलेज के निदेशक डाॅ. सुरेंद्र कश्यप, डाॅ. मुनीष परूथी, डाॅ. जगदीश दुरेजा, डाॅ. हिमांशु मदान, डाॅ. विजय खागवाल, डाॅ. संतोष मुंडे, डाॅ. बुद्धिराजा सहित कल्पना चावला मेडिकल कॉलेज के विभिन्न अनुभागों के डाॅक्टर भी उपस्थित थे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Karnal

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×