• Hindi News
  • Haryana News
  • Karnal
  • सेक्टर-7 में रेकी कर वारदात, पिता-पुत्र के घर से निकलते ही महिला को धक्का दे घुसे 3 बदमाश
--Advertisement--

सेक्टर-7 में रेकी कर वारदात, पिता-पुत्र के घर से निकलते ही महिला को धक्का दे घुसे 3 बदमाश

सीएम सिटी में बदमाशों को पुलिस का कोई खौफ नहीं है। हाल ही में पानीपत में हुई करोड़ों की लूट की तर्ज पर सेक्टर-7 स्थित...

Dainik Bhaskar

Feb 02, 2018, 03:15 AM IST
सीएम सिटी में बदमाशों को पुलिस का कोई खौफ नहीं है। हाल ही में पानीपत में हुई करोड़ों की लूट की तर्ज पर सेक्टर-7 स्थित मकान नंबर 2184 में साढ़े 11 बजे वारदात को अंजाम दिया गया। बदमाशों ने ट्रांसपोर्टर की कोठी में आईजी ऑफिस के पीछे महज 200 कदम की दूरी पर सास-बहू को 25 मिनट तक बंधक बनाए रखा और पुलिस को कानोंकान खबर तक नहीं लगी। जिस तरह वारदात को अंजाम दिया गया इससे ऐसा लगता है कि बदमाशों ने अच्छी तरह रैकी की थी। प्रदीप चौधरी और उनके पिता बलवान जैसे ही घर से निकले। 10 मिनट के अंतराल में तीनों बदमाश घर के अंदर घुसे और बहु सीमा चौधरी व सास अंग्रेजो देवी को बंधक बना लिया। अचानक हुई घटना से सास-बहु सहम गई। सास ने बदमाशों को कहा कि हमें छोड़ दो, जो कुछ चाहिए ले जाओ। पुलिस का मानना है कि प्राथमिक दृष्टि में लगता है कि किसी भेदी (जानकार) ने ही प्लान के अनुसार वारदात की है। एसपी जश्नदीप सिंह रंधावा ने डीएसपी करनाल के नेतृत्व में तीन सदस्यीय टीम गठित कर दी है।

आईजी ऑफिस से महज 200 कदम दूर कोठी में दिनदहाड़े लूट सास और बहू की कनपटी पर 25 मिनट तक ताने रखी पिस्तौल

करनाल. सेक्टर-7 स्थित एक मकान में दिनदहाड़े हथियारबंद युवकों द्वारा की गई लूट के बाद जांच करते एफएसएल टीम के सदस्य।

पीड़ित की जुबानी: दो बदमाश पिस्तौल ताने रहे, तीसरा सामान उठाता रहा

सीमा चौधरी ने बताया कि कपड़े धोते हुए वह मुख्य गेट की तरफ जाने लगी तो कमरे के गेट पर ही एक युवक ने उसे धक्का दिया। उसने पिस्तौल तान दी। उसके कान से बाली, गले से चेन, हाथ में पहने कंगन, अंगूठी उतरवाए गए। एक हाथ में पहना कंगन इसलिए बच गया कि जर्सी के नीचे दिखाई नहीं दिया। पीड़ित अंग्रेजो देवी ने बताया कि दो बदमाश उन पर पिस्तौल ताने रहे। तीसरा बदमाश सामान उठाता रहा। वह दोनों बदमाश तीसरे बदमाश को गाली भी देते रहे।

जान से मारने की धमकी देकर इस तरह शरीर से एक-एक कर सारे गहने उतरवाए...

आहट सुनते ही सीमा गेट की तरफ जाने लगी तो अचानक बदमाश ने धक्का देकर उसे गिरा दिया।

छह माह पहले ही आस्ट्रेलिया से लौटे थे

प्रदीप चौधरी और सीमा चौधरी छह माह पहले ही आस्ट्रेलिया से आए हैं। वह सेक्टर-7 में रहने लगे। गोल्ड को वह अक्सर बैंक के लॉकर में रखते हैं। भाई की सगाई समारोह पर लॉकर से निकलवा लाए थे। एक या दो दिन में यह वापस बैंक में जमा करवाने थे, लेकिन इससे पहले वारदात हो गई।

30 मिनट की वीडियो क्लिप में तलाश रहे सुराग

सास-बहु की कनपटी पर पिस्तौल तान कर दो बदमाशों ने उनसे सारे गहने उतरवा लिए।

पुलिस ने एरिया से मोबाइल कॉल को डंप कर लिया है। मकान के आसपास लगे सीसीटीवी फुटेज चेक किए जा रहे हैं। हाईवे पर भी लगे कैमरे को चेक किया जा रहा है। पुलिस ने पड़ोस के मकान से 30 मिनट की एक वीडियो क्लिप ली है। उसमें आरोपी आते नजर आ रहे हैं। उनकी पहचान कर आरोपियों को पकड़ने में मदद मिलेगी। आरोपी पड़ोस में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गए। बदमाश हाईवे की तरफ से पार्क से होते हुए 150 मीटर पैदल चल मकान में घुसे।

पानीपत की तर्ज पर हुई वारदात


तीसरा बदमाश कमरे में रखी अलमारी में रखे गहने व नकदी बैग में भरकर आया और सभी फरार हो गए।

पड़ोस के 2 घरों में पहले भी हो चुका चोरी का प्रयास

जिस जगह पर वारदात हुई है, वहीं पर 3 दिन पहले एक पड़ोसी के घर में चोरी की कोशिश की गई। सीसीटीवी कैमरे तोड़ने लगे तो आवाज सुनकर परिवार के लोग उठ गए। जब तक शोर मचाया तो आरोपी भाग गए। इसी तरह चोरी की एक और घटना पड़ोस में 10 दिन पहले हुई। घटना बड़ी नहीं होने के कारण पुलिस ने भी गंभीरता से नहीं लिया।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..