Hindi News »Haryana »Karnal» एक किमी सड़क का 2 साल से नहीं हो पाया निर्माण, फॉरेस्ट की परमिशन बिना अटका

एक किमी सड़क का 2 साल से नहीं हो पाया निर्माण, फॉरेस्ट की परमिशन बिना अटका

पिछले दो साल से हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण पूर्वी बाईपास की एक किलोमीटर लंबी सड़क का निर्माण नहीं करा पाया है। वन...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 02, 2018, 03:25 AM IST

एक किमी सड़क का 2 साल से नहीं हो पाया निर्माण, फॉरेस्ट की परमिशन बिना अटका
पिछले दो साल से हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण पूर्वी बाईपास की एक किलोमीटर लंबी सड़क का निर्माण नहीं करा पाया है। वन विभाग को सड़क की जगह के बदले जमीन ट्रांसफर करने में हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण में इतना लंबा समय बिता दिया है। हालांकि अब हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण के अधिकारी वन विभाग भारत सरकार को जमीन ट्रांसफर कर चुके होने की बात कर रहे हैं और सड़क निर्माण में देरी का कारण वन विभाग से पेड़ों की कटाई की परमिशन मिलने में देरी को बताया जा रहा है। लेकिन सीएम की घोषणा के बावजूद एक किलोमीटर लंबी सड़क का दो साल बाद भी निर्माण न होना अपने आप में व्यवस्था पर सवाल खड़ा करता है।

शहर के सेक्टरों के पीछे फोरलेन रोड बना हुआ है, जो कि सेक्टर-नौ के दक्षिणी कोने से लेकर मेरठ रोड तक जाता है। इसलिए अगर इसे कुंजपुरा रोड से मिला दिया जाए तो यह पूर्वी बाईपास का रूप धारण कर लेगा। यही सोचकर सीएम ने इस एक किलोमीटर लंबी सड़क के निर्माण की घोषणा दो साल पहले की थी, लेकिन अभी तक इस सड़क का निर्माण अधूरा पड़ा हुआ है, जिससे राहगीरों को इसका लाभ नहीं मिल पाया है। हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण के ढुलमुल रवैये के कारण सड़क के निर्माण में देरी बनी हुई है। क्योंकि वन विभाग की ओर से शुरू में साफ तौर पर कह दिया गया था कि जमीन के बदले जमीन दे दी जाए, लेकिन हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण ने इस प्रक्रिया को पूरा करने में एक साल से भी अधिक का समय लगा दिया है। एचएसवीपी की देरी का खामियाजा लोगों को भुगतना पड़ रहा है।

करनाल. सेक्टर-9 से कुंजपुरा रोड से मिलने वाला पूर्वी बाईपास का निर्माण कार्य अटका हुआ है।

परमिशन मिलने का इंतजार है

हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण की ओर से फोरेस्ट डिपार्टमेंट को बदले में जमीन दे दी गई है। अब फॉरेस्ट की ओर से पेड़ काटने की परमिशन आनी है। जैसे ही पेड़ कट जाएंगे तुरंत सड़क का निर्माण करा दिया जाएगा। ' -वाईएम मेहरा, एसई, हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण करनाल

पेड़ों की कटाई होने के बाद ही हो सकेगा सड़क का निर्माण

सेक्टर-9 के पीछे बनाई जानी वाली सड़क का निर्माण कार्य पेड़ों की कटाई के बाद ही हो सकेगा। क्योंकि इस सड़क के निर्माण कार्य में पेड़ों की बाधा बनी हुई है। जब तक पेड़ों की कटाई नहीं होगी तब तक सड़क निर्माण कार्य आगे नहीं बढ़ पाएगा।

सेक्टरों से गुजर रहे हैवी वाहन

इस सड़क के निर्माण कार्य में देरी से कुंजपुरा रोड की तरफ से मेरठ रोड की ओर जाने वाले हैवी लोडेड वाहन सेक्टर के बीच से होकर गुजर रहे हैं, जिस कारण से स्थानीय लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। इस हाल में लोग दुर्घटनाओं का भी शिकार हो रहे हैं। आए दिन हादसा होने का खतरा लोगों के लिए बना रहता है।

जमीन के बदले मांगी गई है जमीन

फॉरेस्ट डिपार्टमेंट भारत सरकार ने जमीन के बदले जमीन मांगी हुई है। अगर हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण की ओर से नियमानुसार जमीन दे दी गई है तो पेड़ों की कटाई के लिए अनुमति भी शीघ्र आ जाएगी। ताकि सड़क का निर्माण कार्य शुरू किया जा सके।' -विजेंद्र सिंह, डीएफओ करनाल।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Karnal

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×