800 घरवालों की काउंसिलिंग की गई,127 के पेरेंट्स ले जाने को राजी

Karnal News - अपने माता-पिता और भाई से खतरा जताते हुए करनाल पुलिस की शरण में 6 महीने में 137 प्रेमी जोड़े आए हैं। उन्होंने चिंता...

Jul 14, 2019, 08:05 AM IST
Karnal News - haryana news 800 households counseling 127 parents agree to move
अपने माता-पिता और भाई से खतरा जताते हुए करनाल पुलिस की शरण में 6 महीने में 137 प्रेमी जोड़े आए हैं। उन्होंने चिंता व्यक्त की है कि वह बगैर सुरक्षा के रहेंगे तो उन्हें मार दिया जाएगा। प्रशासन की तरफ से इनके पेरेंट्स, रिश्तेदारी में अाते करीब 800 लोगों की काउंसिलिंग करवाई गई है। इससे 127 प्रेमी जोड़ों के पेरेंट्स इनको ले जाने में राजी हो गए हैं।

फैमिली कमेटी की मेंबर एवं काउंसलर की सलाह है कि पेरेंट्स शुरुआत से ही बच्चों के दोस्त बनकर रहें। उन्हें अच्छे-बुरे के बारे में समझाए। उन्हें इज्जत-बेइज्जती का ज्ञान दें, ताकि वह समय रहते संभलकर अपने पेरेंट्स की सहमति से अच्छा जीवनसाथी तलाश कर सकें। लव मैरिज करने के बाद उनकी जान का दुश्मन बनना बिल्कुल गलत है। जनवरी 2019 से 10 जुलाई तक करनाल पुलिस के पास कुल केसों में से 127 प्रेमी जोड़ों के पेरेंट्स की सहमति और जिम्मेदारी लेने के बाद घर भेजे गए हैं। उनके पेरेंट्स की काउंसिलिंग की रिपोर्ट तक बनाई जाती है। पीडब्ल्यूडी रेस्ट हाउस स्थित सेफ हाउस में करनाल पुलिस की सुरक्षा में 10 प्रेमी जोड़े जीवनयापन कर रहे हैं। पुलिस के सेफ हाउस में आना आसान भले ही हो, लेकिन यहां से बाहर निकालना बड़ा मुश्किल है। लड़का और लड़की दोनों पक्षों से पेरेंट्स, भाई, मामा सहित अन्य से जो खतरा है, जब तक दोनों पक्ष के हर बंदे की सहमति नहीं बनेगी तब तक उन्हें छोड़ा नहीं जाता।


करनाल. प्रेमी जोड़ों से पुलिस कागजी प्रक्रिया करते हुए और सेफ हाउस के अंदर प्रेमी जोड़ों की फाइल फोटो।

अनिल भारद्वाज | करनाल

अपने माता-पिता और भाई से खतरा जताते हुए करनाल पुलिस की शरण में 6 महीने में 137 प्रेमी जोड़े आए हैं। उन्होंने चिंता व्यक्त की है कि वह बगैर सुरक्षा के रहेंगे तो उन्हें मार दिया जाएगा। प्रशासन की तरफ से इनके पेरेंट्स, रिश्तेदारी में अाते करीब 800 लोगों की काउंसिलिंग करवाई गई है। इससे 127 प्रेमी जोड़ों के पेरेंट्स इनको ले जाने में राजी हो गए हैं।

फैमिली कमेटी की मेंबर एवं काउंसलर की सलाह है कि पेरेंट्स शुरुआत से ही बच्चों के दोस्त बनकर रहें। उन्हें अच्छे-बुरे के बारे में समझाए। उन्हें इज्जत-बेइज्जती का ज्ञान दें, ताकि वह समय रहते संभलकर अपने पेरेंट्स की सहमति से अच्छा जीवनसाथी तलाश कर सकें। लव मैरिज करने के बाद उनकी जान का दुश्मन बनना बिल्कुल गलत है। जनवरी 2019 से 10 जुलाई तक करनाल पुलिस के पास कुल केसों में से 127 प्रेमी जोड़ों के पेरेंट्स की सहमति और जिम्मेदारी लेने के बाद घर भेजे गए हैं। उनके पेरेंट्स की काउंसिलिंग की रिपोर्ट तक बनाई जाती है। पीडब्ल्यूडी रेस्ट हाउस स्थित सेफ हाउस में करनाल पुलिस की सुरक्षा में 10 प्रेमी जोड़े जीवनयापन कर रहे हैं। पुलिस के सेफ हाउस में आना आसान भले ही हो, लेकिन यहां से बाहर निकालना बड़ा मुश्किल है। लड़का और लड़की दोनों पक्षों से पेरेंट्स, भाई, मामा सहित अन्य से जो खतरा है, जब तक दोनों पक्ष के हर बंदे की सहमति नहीं बनेगी तब तक उन्हें छोड़ा नहीं जाता।

सेफ हाउस में जोड़ों की सुरक्षा कड़ी है



अभिभावकों को सुझाव : बच्चों के साथ इतना घुल मिलकर रहो कि वह हर बात शेयर करें

फैमिली कमेटी की मेंबर एवं काउंसलर एडवोकेट हरविंद्र कौर बताती हैं कि पेरेंट्स की परवरिश की कमी ही है कि शादी के लिए बच्चे घर से फरार हो जाते हैं। मां बेटियों की सेहली और पिता बेटों का दोस्त बनकर उन्हें पूरी दिनचर्या के बारे में बातचीत करंे। बच्चों के साथ इतना घुल मिलकर कर रहो कि वह भी हर बात को शेयर करें। बच्चों को किसी कार्य के लिए जोर जबरदस्ती से रोकने के बजाए उन्हें समझाएं, इससे बच्चे पॉजीटिव की तरफ बढ़ेंगे और मां-बाप के सम्मान में भी कमी नहीं आएगी।

तनाव में न आएं- बच्चों ने जो किया उसको भूलकर उनके अच्छे जीवन के बारे में सोेचें

काउंसिलिंग में पुलिस की सुरक्षा से प्रेमी जोड़ों को ले जाने वाले पेरेंट्स ने कहा कि वह पड़ोसियों के ताने सुनकर इतने परेशान हो चुके थे कि बच्चों को मारने से उनकी इज्जत बनी रहेगी। जैसे ही वह घर से फरार हुए। वह उन्हें ढूंढते रहे। पता चला कि चंडीगढ़ कोर्ट में शादी कर ली है। यदि वह मिल जाते तो मार देते। इसके बाद वह पुलिस सुरक्षा में पहुंचे। इस तरह के बयान लगभग सभी पेरेंट्स के होते हैं। दूसरी तरफ, इनको काउंसिलिंग में समझाया कि धनुश से तीर निकलने के बाद वापस नहीं आता। इसलिए बच्चों ने जो किया उसको भूलकर उनके अच्छे जीवन के बारे में सोेचें। तनाव में न आएं।


X
Karnal News - haryana news 800 households counseling 127 parents agree to move
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना