बच्चे स्वस्थ रहने के लिए करें आसन

Karnal News - अर्बन एस्टेट सेक्टर-13 स्थित राजकीय कन्या उच्च एवं प्राथमिक विद्यालय में सुबह की सभा में मुख्य अध्यापिका स्नेहलता...

Bhaskar News Network

May 18, 2019, 08:10 AM IST
Karnal News - haryana news make the child sit well
अर्बन एस्टेट सेक्टर-13 स्थित राजकीय कन्या उच्च एवं प्राथमिक विद्यालय में सुबह की सभा में मुख्य अध्यापिका स्नेहलता की अगुवाई में योग शिविर का आयोजन किया गया। जिसमें योग शिक्षक अश्वनी मिश्रा तथा सुशीला गोयल ने बच्चों को योगासन का अभ्यास करवाया। डीओसी अनिल सैनी ने बताया कि योग शिविर में प्रशिक्षकों ने बच्चों को कपालभाति, अनुलोम विलोम, ताड़ासन, गोमुख आसन, पद्मासन वज्रासन और सूर्य नमस्कार का अभ्यास करवाते बताया कि स्वस्थ शरीर में स्वस्थ मस्तिष्क का निवास होता है। उन्होंने बताया कि बच्चे नियमित आसन करें, ताकि उनका शरीर और मन स्वस्थ रहे और उनका पढ़ाई में मन लगे। उन्होंने बताया कि लड़कियां यदि योग करेंगी तो उनका शरीर मजबूत होगा, ताकि वे आत्मरक्षा करने में सक्षम हों। अनिल सैनी ने कहा कि योग करने वाले बच्चे बुरी संगत से बच जाते हैं और वे जीवन में सफलता की अाेर अग्रसर होते हैं। इस अवसर पर योग शिविर में रीतू सिंगला, सुनीता रहेजा, सुमन सैनी, अंजू, सुमन, सुनीता, रीतू कुकरेजा, रेखा, सुखविंदर कौर, सरोज, उर्मिला तथा रीतू पीटीआई ने भी हिस्सा लिया।

करनाल.अर्बन एस्टेट सेक्टर तेरह स्थित राजकीय कन्या उच्च एवं प्राथमिक विद्यालय में चल रहे योग शिविर में योग करते विद्यार्थी।

मनुष्य का पहला सुख निरोगी काया

निसिंग | गांव गोंदर स्थित स्वामी अमरदेव सीनियर सेकेंडरी स्कूल प्रांगण में पतंजलि योगपीठ निसिंग की ओर से योग शिविर लगाया गया। इस दाैरान अशोक धवन, अनित शर्मा व शिव कुमार चौधरी पहुंचे। योग शिविर स्कूल प्रधानाचार्य राखी गिरबानी व बलवीर सिंह की देखरेख में आयोजित करवाया जा रहा है। योग गुरुओं ने साधकों को कपालभात्ति, बाह्य प्राणायाम, अनुलोम-विलोम, शीर्ष आसन भ्रामरी, भस्त्रिका प्राणायामों के बारे में जानकारी दी अाैर उनका अभ्यास करवाया गया। साधकों को साथ ही ध्यान लगाने के गुर भी सिखाए गए, ताकि उनका ध्यान योग क्रियाओं पर लगा रहे। अशोक धवन ने साधकों योग से होने वाले फायदे के बारे में बताते हुए कहा कि मनुष्य का पहला सुख निरोगी काया होती है, यदि मनुष्य का शरीर स्वस्थ नहीं होगा तो कोई भी कार्य नहीं कर सकता। उन्होंने कहा कि निरोगी काया जब रह सकती है जब मनुष्य नियमित रूप से हर रोज एक घंटा योग करें। उन्होंने बताया कि योग भारत देश की सबसे पुरानी परंपरा है। यह परंपरा पुराने समय से चली आ रही है।

X
Karnal News - haryana news make the child sit well
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना