Hindi News »Haryana »Karnal» आज करनाल को मिलेंगे तीन नए क्लस्टर, शहर के उद्योगपतियों को होगा फायदा

आज करनाल को मिलेंगे तीन नए क्लस्टर, शहर के उद्योगपतियों को होगा फायदा

धान उत्पादन का गढ़ करनाल अब औद्योगिक पटरी पर भी रफ्तार भरने जा रहा है। यहां मौजूद उद्योगों को गति देने के लिए तीन नए...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 03, 2018, 02:50 AM IST

धान उत्पादन का गढ़ करनाल अब औद्योगिक पटरी पर भी रफ्तार भरने जा रहा है। यहां मौजूद उद्योगों को गति देने के लिए तीन नए क्लस्टर शुरू किए गए हैं। गुरुवार को खुद सीएम मनोहर लाल ये तीनों क्लस्टर इलाके के उद्योगपतियों को समर्पित करेंगे। राज्य के उद्योग एवं वाणिज्य विभाग ने तीन और क्लस्टर के लिए प्रक्रिया शुरू कर दी है। इनमें से दो को केंद्र की मंजूरी भी मिल चुकी है।

राज्य के उद्योग एवं वाणिज्य मंत्री विपुल गोयल की मौजूदगी में सीएम की अध्यक्षता में करनाल में उद्योगपतियों की समस्याओं के निपटारे के लिए आज समाधान दिवस का आयोजन होगा। यह पहला मौका होगा जब सीएम खुद समाधान दिवस में उद्योगपतियों से मिलेंगे। कार्यक्रम के दौरान प्रिंट एंड पैक, बेकरी और फार्मा क्लस्टर स्थानीय उद्योगपतियों को समर्पित किए जाएंगे। 32 करोड़ रुपए से अधिक की लागत से ये तीनों क्लस्टर तैयार किए हैं। राज्य के उद्योग मंत्री ने पिछले वर्ष सूक्ष्म एवं लघु उद्यमों के लिए आयोजित एमएसएमई सम्मेलन में प्रदेशभर में 25 क्लस्टर स्थापित करने का ऐलान किया था। इनमें से 20 के करीब स्थापित हो चुके हैं या उन पर काम चल रहा है। बाकी क्लस्टर अगले तीन-चार माह में स्थापित करने का टारगेट है। छोटे उद्योगपतियों को एक ही जगह पर कॉमन सर्विस सेंटर के तौर पर सुविधाएं देने के लिए ये क्लस्टर स्थापित किए जा रहे हैं। केंद्र की आर्थिक सहायता से बनने वाले क्लस्टर में राज्य सरकार के अलावा छोटे उद्योगपतियों का भी शेयर होता है।

इन तीन की होगी शुरुआत, आज उद्याेगपत्तियों से मिलेंगे सीएम

प्रिंट एवं पैक: इस क्लस्टर का फायदा करनाल के सभी सूक्ष्म एवं लघु उद्यमियों को मिलेगा। क्लस्टर में तमाम तरह की मशीनरी का सैटअप लगाया जा चुका है। अपने सभी प्रकार के उत्पादों की पैकिंग अब उद्योगपति इस क्लस्टर में कर सकेंगे। सामान्य तौर पर मार्केट में प्रिंट एंड पैकिंग पर आने वाले खर्चे से कम लागत में अब उद्यमियों को यह सुविधा मिलेगी।

बेकरी क्लस्टर : करनाल में बेकरी का भी अच्छा कारोबार है। शहर ही नहीं गांवों व कस्बों में भी छोटे उद्यमियों ने अपनी बेकरी लगाई हुई है। अभी तक हाथों से बेकरी का काम होता रहा है लेकिन इस क्लस्टर में आधुनिक मशीन लगाई गई हैं। यहां बेकरी का मसाला भी मशीन से मिक्स होगा और मशीन में ही बेकरी का सामान तैयार होगा।

फार्मा क्लस्टर : करनाल में फार्मा से जुड़ी सूक्ष्म एवं लघु उद्यमियों को एक छत के नीचे यह सुविधा मिलेगी। चूंकि क्लस्टर में उद्यमी भी भागीदार हैं, इसलिए वे स्वतंत्र तौर पर इस क्लस्टर को चलाएंगे। लघु एवं सूक्ष्म उद्योगों को बढ़ावा देने की दिशा में क्लस्टर योजना को मील का पत्थर माना जा रहा है।

उद्योगों को दे रहे बढ़ावा

पीएम नरेंद्र मोदी और सीएम मनोहर लाल के नेतृत्व में भाजपा सरकार लघु, सूक्ष्म एवं मध्यम उद्योगों को बढ़ावा देने की दिशा में काम कर रही है। क्लस्टर योजना इन उद्यमियों के लिए वरदान साबित हो रही है। आने वाले दिनों में इनकी संख्या और बढ़ाई जाएगी। सरकार ने बड़ी फैक्टरियों के साथ-साथ छोटे उद्यमियों के लिए भी राज्य में अनुकूल माहौल बनाया है। -विपुल गोयल, उद्योग मंत्री हरियाणा सरकार।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Karnal

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×