• Home
  • Haryana News
  • Kharkhoda
  • महिलाओं के लिए 7 वार्ड होंगे आरक्षित, चंडीगढ़ में होगा ड्राॅ
--Advertisement--

महिलाओं के लिए 7 वार्ड होंगे आरक्षित, चंडीगढ़ में होगा ड्राॅ

खरखौदा | नगरपालिका चुनाव 2018 में कुल 15 वार्डों में से 7 वार्ड महिलाओं के लिए आरक्षित होंगे। जिनमें 2 वार्ड महिला एस.सी...

Danik Bhaskar | Feb 03, 2018, 02:30 AM IST
खरखौदा | नगरपालिका चुनाव 2018 में कुल 15 वार्डों में से 7 वार्ड महिलाओं के लिए आरक्षित होंगे। जिनमें 2 वार्ड महिला एस.सी वर्ग के लिए आरक्षित होने हैं। कुल 6 वार्ड आरक्षित होंगे जिनमें दो बीसी वर्ग के लिए चार वार्ड एससी वर्ग के लिए हैं। 8 फरवरी को चंडीगढ़ निदेशालय में ड्राॅ सिस्टम के माध्यम से वार्डों का आरक्षण किया जाएगा। नगरपालिका की पांच सदस्यीय एडहॉक कमेटी, नगरपालिका सचिव, नगरपालिका मौजूदा प्रधान व जिला उपायुक्त की तरफ से प्रतिनिधि भी चंडीगढ़ में होने वाली बैठक में उपस्थित होंगे। जिनके सामने ड्राॅ निकाला जाएगा। नगरपालिका सचिव ने बताया कि इस बार परिसीमन के मुताबिक कुल 15 वार्ड बने हैं, जिनमें से 7 वार्डों को महिलाओं के लिए आरक्षित किया जाएगा। जो ड्राॅ के माध्यम से होना है। जनसंख्या के मुताबिक वार्डों का आरक्षण भी वहीं पर फाइनल होगा। जिन चार वार्डों में एससी जनगणना अधिक है पहले उन्हें एससी वार्ड घोषित किया जाएगा। जिन दो वार्डों में बीसी कैटेगरी की संख्या ज्यादा हैं उन्हें बीसी घोषित किया जाएगा। इसके अलावा बाकी सभी वार्ड सामान्य श्रेणी में रहेगी। सामान्य श्रेणी में चार वार्ड महिलाओं के लिए आरक्षित होने हैं जबकि एससी श्रेणी में दो वार्ड महिलाओं के लिए आरक्षित होने हैं। जिनका ड्राॅ 8 फरवरी को चंडीगढ़ निदेशालय में होना है।


नए वार्डों के हिसाब से लगेगी मतदाता सूची

नपा सचिव राजेंद्र सिंह का कहना है कि जिन लोगों ने अपने वोट पहले ही बनवा रखे हैं, केवल उन्हीं मतदाताओं को इस चुनाव में मौका मिलेगा। जिन मतदाताओं के वोट विधानसभा की 10 जनवरी को जारी हुई सूची में दर्ज नहीं हैं, उन मतदाताओं को इस बार वोट डालने का मौका नहीं मिलेगा। क्योंकि विभाग ने फैसला लिया है कि हर वर्ष की तरह नगरपालिका चुनावों के मद्देनजर नए वोट न तो बनाए जाएंगे और ना ही जोड़े जाएंगे। खरखौदा नगरपालिका सोमवार को तहसील कार्यालय, नगरपालिका कार्यालय व एसडीएम कार्यालय में नये वार्डों के हिसाब से मतदाता सूची चस्पा करेगी व आपत्ति एवं दावे बाद में स्वीकार करने के लिए मतदाताओं को मौका देगी।