• Home
  • Haryana News
  • Kharkhoda
  • संस्कार व संस्कृति युक्त शिक्षा जरूरी : खत्री
--Advertisement--

संस्कार व संस्कृति युक्त शिक्षा जरूरी : खत्री

आज के आधुनिक एवं तकनीकी युग में युवा संस्कार व संस्कृति के मामले में पिछड़ रहे हैं, इस लिए हम सबका दायित्व है कि हम...

Danik Bhaskar | Feb 03, 2018, 02:30 AM IST
आज के आधुनिक एवं तकनीकी युग में युवा संस्कार व संस्कृति के मामले में पिछड़ रहे हैं, इस लिए हम सबका दायित्व है कि हम बच्चों को संस्कार व संस्कृति युक्त शिक्षा उपलब्ध करवाएं। ताकि आने वाले समय में बच्चे संस्कारवान बने। इसके लिए अभिभावकों एवं अध्यापकों को एकजुट होकर प्रयास करने होंगे। ये शब्द बतौर मुख्य अतिथि धर्मराज खत्री ने खांडा मार्ग पर स्थित कल्पना चावला विद्यापीठ विद्यालय में सांस्कृतिक समारोह में कहे। उन्होंने कहा कि स्कूलों सांस्कृतिक एवं संस्कारों पर आधारित कार्यक्रम करने चाहिए। सांस्कृतिक कार्यक्रम में छात्र एवं छात्राओं ने बेहतर प्रदर्शन किया। जिसमें इन बच्चों ने अलग-अलग प्रस्तुतियां दी। इस मौके पर ग्रुप बनाकर प्रतियोगिता आयोजित की गई। जिसमें बच्चों ने रंग-बिरंगी ड्रैस पहनी हुई थी। कविता गायन प्रतियोगिता का भी आयोजन किया, कविताओं के माध्यम से सभी को अच्छे-अच्छे संदेश दिए कि हमें पेड़ों को नहीं काटना चाहिए, अपने वातावरण को दूषित नहीं करना चाहिए।

खरखौदा. सांस्कृतिक कार्यक्रम के दौरान अपनी प्रस्तुति देतीं छात्राएं।