• Home
  • Haryana News
  • Kharkhoda
  • बीडीपीओ कार्यालय राई में सरपंचों ने धरना किया शुरू, कर्मचारियों की सुरक्षा के लिए पुलिस तैनात
--Advertisement--

बीडीपीओ कार्यालय राई में सरपंचों ने धरना किया शुरू, कर्मचारियों की सुरक्षा के लिए पुलिस तैनात

सरपंच एकता विकास समिति से संबंधित सभी सरपंचों ने शनिवार को खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी कार्यालय राई में आज...

Danik Bhaskar | Apr 01, 2018, 02:30 AM IST
सरपंच एकता विकास समिति से संबंधित सभी सरपंचों ने शनिवार को खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी कार्यालय राई में आज सांकेतिक रूप से धरना दिया। रविवार को बाकायदा टेंट लगाकर अनिश्चितकालीन धरना शुरू करेंगे। सरपंचों ने फैसला लिया कि एक अप्रैल से गांव में कोई विकास कार्य नहीं कराएंगे। उधर, बीडीपीओ कार्यालय के कर्मचारियों की सुरक्षा के लिए पुलिस तैनात कर दी गई है।

खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी कार्यालय राई में सरपंच एकता विकास समिति के बैनर तले सभी सरपंच एकजुट हुए। सरपंचों ने कार्यालय में पहले दिन सांकेतिक रूप से धरना दिया। सरपंचों ने सीएम मनोहरलाल के खिलाफ नारेबाजी भी की। खेड़ी मनाजात गांव के सरपंच बीलू दहिया ने कहा कि एक अप्रैल से सभी सरपंच कोई विकास कार्य नहीं कराएंगे। सीएम मनोहरलाल ने सरपंचों के प्रतिनिधिमंडल की सभी दस मांगों को खारिज कर तानाशाह नेता का परिचय दिया था। जिसका वे विरोध कर रहे हैं। सरपंच सरकार के इस अपमान का बदला लेकर रहेंगे। इस मौके पर नाहरी पाना सिखान के सरपंच सुनील दहिया, कुंडली के सरपंच मनीष खत्री, नाहरी की सरपंच लता देवी, महेश शर्मा, बढ़मलिक के सरपंच राकेश कुमार, सबोली के सरपंच सतपाल सिंह, बीलू सरपंच खेड़ी मनाजात, सतपाल, मल्हा माजरा, सफियाबाद के सरपंच अमित कौशिक, प्रवीन प्रधान जठेड़ी भी मौजूद थे।

200 मीटर दूर धरने पर बैठेंगे सरपंच: सरपंचों के धरने-प्रदर्शन को लेकर डीसी व एसपी पल-पल की खबर ले रहे हैं। बीडीपीओ को आदेश दिया गया है कि कार्यालय से 200 मीटर दूरी से पहले धरना शुरू नहीं हो सकता। बीडीपीओ ने राई थाना पुलिस से सहयोग मांगा।

कौर कमेटी की मांग पर नहीं कोई अमल

खरखौदा | खरखौदा ब्लाक के सरपंचों ने सरकार के किसी भी कार्य में सहयोग न करने का फैसला किया है। खरखौदा ब्लाक सरपंच एसोसिएशन प्रधान धर्मेंद्र के नेतृत्व में अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल एवं धरना ब्लाक समिति कार्यालय में बने पंचायत घर में ही करना शुरू कर दिया है। जिसमें पहले दिन दो सरपंच जिनमें फतेहपुर से सरपंच सुशील व ब्लाक प्रधान सैदपुर सरपंच धर्मेंद्र भूख हड़ताल पर बैठ गए हैं। ब्लाक प्रधान धर्मेंद्र का कहना है कि प्रदेश की भाजपा सरकार सत्ता के नशे में सरपंचों के साथ सौतेला व्यवहार कर रही है। चंडीगढ़ में हरियाणा सरपंच एसोसिएशन की कौर कमेटी द्वारा जो मांगे रखी गई न तो उनपर कोई अमल किया उल्टा वहां कौर कमेटी में गए प्रतिनिधिमंडल के सम्मान को ठेस पहुंचाई है।