• Home
  • Haryana News
  • Kharkhoda
  • सरपंच और ग्राम सचिवों ने वर्क सस्पेंड कर बीडीपीओ आॅफिस पर जड़ा ताला
--Advertisement--

सरपंच और ग्राम सचिवों ने वर्क सस्पेंड कर बीडीपीओ आॅफिस पर जड़ा ताला

सरपंच ग्राम सचिव संयुक्त संघर्ष समिति के बैनर तले गुरुवार को जिले भर के सरपंचों और ग्राम सचिवों ने बीडीपीओ...

Danik Bhaskar | Mar 30, 2018, 02:40 AM IST
सरपंच ग्राम सचिव संयुक्त संघर्ष समिति के बैनर तले गुरुवार को जिले भर के सरपंचों और ग्राम सचिवों ने बीडीपीओ कार्यालय सोनीपत में बैठक की। बैठक में सामूहिक रूप से सरकार द्वारा सरपंचों और ग्राम सचिवों के हितों की अनदेखी करने पर सहमति बनाई। आरोप है कि प्रदेश सरकार पंचायती राज एक्ट को खत्म करने पर तुली है। सरपंचों के अधिकारों में लगातार कटौती की जा रही है। सरपंचों ने इकठ्‌ठा होकर बीडीपीओ कार्यालय पर ताला जड़ दिया और चाबी प्रधान अपने साथ ले गया। उन्होंने कहा कि जब तक उनकी मांगें पूरी नहीं हो जाती तब तक ताला नहीं खोला जाएगा। प्रदेश के सभी जिलों के सरपंचों की आज करनाल में बैठक होगी। जहां पर अंतिम लड़ाई की घोषणा की जाएगी।

सरपचों का आरोप है कि सरकार विकास के लिए पर्याप्त ग्रांट नहीं जारी कर रही है। इसके कारण गांवों का विकास प्रभावित हो रहा है। ग्राम सचिवों और सरपंचों को चोर बनाने पर तुली है। जिस तरह से इस सरकार में किया जा रहा है, ऐसा पहले कभी नहीं किया गया। उन्होंने गुरुवार से वर्क सस्पेंड कर मांगों को लेकर बैठक भी की।

बैठक के बाद की गई तालाबंदी

सरपंचों ने बीडीपीओ कार्यालय के मीटिंग हाल में शाम साढ़े पांच बजे बैठक की। यह बैठक करीब एक घंटे चली। जिसमें समस्याओं और मांगों पर एक दूसरे से सुझाव और समाधान मांगा गया। अंत में सामूहिक रूप से सरकार विरोधी नारे लगाकर बीडीपीओ कार्यालय के मुख्य गेट पर ताला लगा दिया। इसमें सोनीपत जिला प्रधान मंडोरा के सरपंच मंजीत, राई ब्लॉक के प्रधान प्रताप, धर्मेदंर खरखौदा, रविंदर गुमड़, राजेश भैंसवाल, विवेक माहरा, सुशील फतेहपुर, नरेश करेवड़ी, प्रवेश हुल्लाहेड़ी ग्राम सचिव अशोक खत्री, नरेश धनखड़, राजाराम, अजीत पहलवान और कुलदीप सिंह आदि मौजूद रहे।

इन मांगों को पूरा करने पर अड़े हैं सरपंच व सचिव









सोनीपत . बीडीपीओ कार्यालय पर ताला लगाते सरपंच।

मांग पूरी होने पर खंड विकास कार्यालय में जाने देंगे: दहिया

खरखौदा | गुरुवार को क्षेत्र के सरंपचों ने हरियाणा सरपंच एसोसिएशन सोनीपत जिला प्रधान मंजीत दहिया व खरखौदा ब्लाक प्रधान धर्मेंद्र की अध्यक्षता में हरियाणा सरकार द्वारा उनकी मांगे न मानने व सरपंचों को फटकार लगाने से खपा होकर खंड विकास एवं पंचायत कार्यालय के मुख्य गेट पर ताला लगा दिया। जिला अध्यक्ष मंजीत दहिया ने बताया कि मुख्यमंत्री से मिलने वाले 51 सदस्सीय सरपंचों की कोर कमेटी की मुख्यमंत्री ने उनकी 10 मांगों को खारिज कर दिया और बाद में उन्हें पुलिस द्वारा धक्के मरवाए गए। सीएम के इस व्यवहार से खफा होकर सरपंचों ने फैसला लिया है कि जब तक उनकी मांगे पूरी नहीं होती है तब तक वे खंड विकास कार्यालय में किसी भी कर्मचारी को घूसने नहीं देंगे। जिला प्रधान मंजीत दहिया ने कहा कि कैबिनेट मंत्री कविता जैन के कार्यक्रम में भी सरपंच उन्हें काले झंडे दिखाऐंगे। क्षेत्र के किसी भी गांव में कोई भी भाजपा नेता का कार्यक्रम होगा तो उसका विरोध करेंगे। उन्होंने कहा कि उनके इस आंदोलन में सचिव, पंच, ब्लाक समिति सदस्य भी जुड़ जाएंगे।