Hindi News »Haryana »Kharkhoda» माहभर से थी प्रोफेसर की हत्या की साजिश, चाकू का प्लान फेल हुआ तो लिया गोली मारने का फैसला

माहभर से थी प्रोफेसर की हत्या की साजिश, चाकू का प्लान फेल हुआ तो लिया गोली मारने का फैसला

भास्कर न्यूज |सोनीपत, खरखौदा शहीद दलबीर सिंह राजकीय महाविद्यालय पिपली में एक्सटेंशन प्रोफेसर राजेश मलिक की...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 15, 2018, 02:50 AM IST

माहभर से थी प्रोफेसर की हत्या की साजिश, चाकू का प्लान फेल हुआ तो लिया गोली मारने का फैसला
भास्कर न्यूज |सोनीपत, खरखौदा

शहीद दलबीर सिंह राजकीय महाविद्यालय पिपली में एक्सटेंशन प्रोफेसर राजेश मलिक की हत्या की साजिश एक महीने पहले से रची जा रही थी। हत्यारोपी छात्र जगमेल को रोहतक के पास से गिरफ्तार करने के बाद इसका खुलासा हुआ।

एक माह पहले एक लड़की से कॉलेज में बातचीत व फब्तियां कसने पर प्रोफेसर ने रोहणा के बीएस द्वितीय वर्ष के छात्र जगमेल के घर परिजनों को शिकायत कर दी थी। इससे जगमेल रंजिश खाकर दोस्तों के साथ आए दिन हत्या करने के तरीकों की प्लानिंग कर रहा था। पहले उन्होंने चाकू से हत्या करने की प्लानिंग बनाई पर बाद में इसे सही नहीं मानते हुए गोली मारना तय किया। मामले में जगमेल के साथ चार-पांच अन्य के भी साजिश में शामिल होना पाया है। आरोपी बनाई महिला प्रोफेसर योगेश की भूमिका को पुलिस नकार रही है। मामले में बुधवार को पहले गिरफ्तार किए जा चुके जगमेल के चाचा रोहणा के दिनेश और साजिश में शामिल छात्र थाना कलां के आकाश व अमित को कोर्ट में पेश किया। कोर्ट से दिनेश को जमानत मिल गई। उनकी लाइसेंसी रिवाल्वर से गोली चलाई थी। वहीं साजिश में शामिल छात्र आकाश व अमित को पुलिस ने दो दिन के रिमांड पर लिया है। सीआईए स्टाफ इंचार्ज इंदीवर और एसआईटी खरखौदा इंचार्ज अजय की टीम ने जगमेल को गिरफ्तार किया।

पुलिस की हिरासत में आरोपी जगमेल।

गुरुवार को कोर्ट में पेश करेगी पुलिस

सीआईए इंचार्ज इंदीवर ने बताया कि आरोपी ने ईंट व्यापारी चाचा दिनेश की लाइसेंसी रिवाल्वर घर से चुराई और दोस्तों के साथ प्लानिंग के तहत हत्या कर दी। उसके सहयोगी छात्र आसपास ही पूरी लोकेशन व भागने के रास्ते बताने के लिए खड़े थे।

एफआईआर में कुल 8 नाम हुए दर्ज

इस मामले में पुलिस ने एफआईआर में 8 लोग शामिल किए हैं। इनमें मुख्य आरोपी जगमेल सिंह, थाना कलां गांव निवासी अमित, थाना कलां गांव निवासी आकाश, थाना कलां गांव निवासी जशन, पिपली गांव निवासी विवेक, पिपली गांव निवासी अजय और मुख्य आरोपी का चाचा दिनेश शामिल हैं। एफआईआर में साजिश में शामिल की महिला प्रोफेसर योगेश की भूमिका नहीं होने की बात पूछताछ में सामने आई है। जगमेल के चाचा दिनेश को रिवाल्वर संभालकर न रखने का आरोपी माना है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kharkhoda

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×