• Home
  • Haryana News
  • Kharkhoda
  • छात्राओं पर फब्तियां कसने से रोका तो बीए के छात्र ने बेटी के सामने प्रोफेसर को मारी 4 गोलियां
--Advertisement--

छात्राओं पर फब्तियां कसने से रोका तो बीए के छात्र ने बेटी के सामने प्रोफेसर को मारी 4 गोलियां

भास्कर न्यूज | खरखौदा (सोनीपत) कॉलेज की छात्राओं पर फब्तियां कसने से रोकने पर बीए सेकंड ईयर के छात्र ने एक्सटेंशन...

Danik Bhaskar | Mar 14, 2018, 03:00 AM IST
भास्कर न्यूज | खरखौदा (सोनीपत)

कॉलेज की छात्राओं पर फब्तियां कसने से रोकने पर बीए सेकंड ईयर के छात्र ने एक्सटेंशन प्रोफेसर की गोली मारकर हत्या कर दी। हत्या की साजिश में कॉलेज की एक महिला प्रोफेसर व तीन अन्य के भी शामिल होने के आरोप हैं। वारदात कुंडली-मानेसर-पलवल (केएमपी) एक्सप्रेस-वे से सटे खरखौदा के गांव पिपली के शहीद दलबीर सिंह राजकीय कॉलेज की है। पुलिस ने बताया कि बीए सेकंड ईयर का छात्र रोहणा निवासी जगमेल कॉलेज की लड़कियां पर फब्तियां कसता रहता था। एक्सटेंशन प्रोफेसर राजेश के रोकने पर जगमेल ने उनके साथ कहासुनी की थी। इसी बात को लेकर जगमेल उनसे रंजिश रखने लगा। मंगलवार सुबह 9:15 बजे कॉलेज का मेन गेट खुला था। प्रोफेसर राजेश स्टेनो रूम में अपनी 14 वर्षीय बेटी के साथ बैठे थे। तभी जगमेल वहां घुसा और उन पर गोलियां चला दीं। छात्र ने राजेश को चार गोलियां मारी। जो छाती, कमर और बाजू में लगीं। खरखौदा सीएचसी में ले जाते समय राजेश ने दम तोड़ दिया। सोनीपत के सेक्टर-23 में रहने वाला राजेश मलिक तीन साल पहले कॉलेज में अंग्रेजी का एक्सटेंशन प्रोफेसर लगा था। पुलिस ने जगमेल पर हत्या व आर्म्स एक्ट में केस दर्ज किया है। वहीं, एक महिला प्रोफेसर व तीन अन्य पर हत्या की साजिश का केस दर्ज किया है। मुख्य आरोपी व महिला प्रोफेसर फरार हैं। बाकी तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

प्रो. राजेश मलिक

अस्पताल लेकर जाना था, इसलिए बेटी को साथ लाए थे

राजेश के साले मयूर विहार निवासी सितेंद्र ने बताया कि राजेश का 16 वर्षीय बेटा लक्ष्य व 14 वर्षीय बेटी लक्षिका है। 9वीं की छात्रा लक्षिका को दिल्ली में अस्पताल में लेकर जाना था। इसलिए सितेंद्र कार में राजेश को कॉलेज छोड़ते हुए लक्षिका को दिल्ली ले जाने के लिए सुबह 8 बजे घर से निकले। उसने कॉलेज के बाहर गाड़ी खड़ी कर दी। राजेश लक्षिका के साथ कॉलेज के अंदर चले गए। कुछ ही देर बाद अंदर से गोलियाें की आवाज आई। हाथ में पिस्तौल लिए युवक स्टेनो रूम की तरफ से भागता नजर आया। लक्षिका जोर-जोर से चिल्ला रही थी। स्टेनो ज्योति भी वहीं मौजूद थीं।

महिला प्रोफेसर ने की थी उत्पीड़न की शिकायत

स्कूल में लगे तीनों सीसीटीवी कैमरे खराब मिले। सितेंद्र ने स्टेनो ज्योति के हवाले से बताया कि जगमेल डिस्टेंस स्टडी का छात्र है। उसका महिला प्रोफेसर बाजवान निवासी योगेश के साथ तालमेल है। शनिवार को दोनों को बातचीत करते भी देखा गया। योगेश ने प्रिंसिपल रवि प्रकाश, जियोग्राफी प्रोफेसर अनिल व इंग्लिश प्रोफेसर राजेश के खिलाफ उत्पीड़ने की विभागीय शिकायत भी की हुई थी। वह राजेश से रंजिश रखे हुए थी।

बेटी बोली- गोलियां लगने के बाद खून से लथपथ पापा जमीन पर गिर गए

वारदात से सहमी लक्षिका ने बताया, ‘मैं, मेरे पापा और मैडम ज्योति स्टेनो रूम में थे। तभी एक युवक आया और पापा पर गोलियां बरसाना शुरू कर दिया। गोली लगने के बाद खून से लथपथ पापा जमीन पर गिर गए।

चाचा की रिवॉल्वर से वारदात, 3 गिरफ्तार, 2 की तलाश जारी

सोनीपत सिविल अस्पताल में चिकित्सकों के बोर्ड से शव का पोस्टमार्टम कराया गया। खरखौदा थाना प्रभारी वजीर सिंह ने बताया कि जगमेल ने अपने चाचा रोहणा निवासी दिनेश की लाइसेंसी रिवॉल्वर से वारदात को अंजाम दिया। जबकि थाना कलां निवासी उसके साथी छात्र अमित व आकाश ने हत्या के लिए उकसाया। इसलिए तीनों को भी हत्या की साजिश में गिरफ्तार किया है। जगमेल व महिला प्रोफेसर योगेश की तलाश की जा रही है।