• Hindi News
  • Haryana
  • Kharkhoda
  • पूर्व सीएम हुड‌्डा की बढ़ेंगी मुश्किलें, सोनीपत और रोहतक जमीन समेत 6 मामलों में हुड‌्डा के खिलाफ सीबीआई जांच
--Advertisement--

पूर्व सीएम हुड‌्डा की बढ़ेंगी मुश्किलें, सोनीपत और रोहतक जमीन समेत 6 मामलों में हुड‌्डा के खिलाफ सीबीआई जांच

भास्कर न्यूज | राजधानी हरियाणा पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्‌डा की मुश्किलें अब और बढ़ने वाली है। सोनीपत...

Dainik Bhaskar

Mar 14, 2018, 03:00 AM IST
पूर्व सीएम हुड‌्डा की बढ़ेंगी मुश्किलें, सोनीपत और रोहतक जमीन समेत 6 मामलों में हुड‌्डा के खिलाफ सीबीआई जांच
भास्कर न्यूज | राजधानी हरियाणा

पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्‌डा की मुश्किलें अब और बढ़ने वाली है। सोनीपत और रोहतक जमीन मामले में भी सीबीआई जांच होगी। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने विधानसभा में इसकी जानकारी दी। हुड्‌डा के खिलाफ पंचकूला एजीएल, पंचकूला प्लाट आवंटन और मानेसर जमीन मामले के साथ रैक्सील दवा मामले में पहले ही सीबीआई जांच चल रही है।

सोनीपत के खरखौदा में आइएमटी के लिए करीब 700 एकड़ जमीन अधिग्रहीत की गई थी, जबकि रोहतक में दिल्ली रोड पर जमीन का अधिग्रहण हुआ था। बाद में दोनों ही जगह जमीन रीलिज कर दी गई। अभी वहां काफी निर्माण भी हो चुका है। पूर्व सीएम हुड्‌डा को अब छह सीबीआई जांच का सामना करना पड़ेगा।

ये हैं मामले: सोनीपत के तीन गांव नांगल गांव, अटेरना और सेरसा 885 एकड़ भूमि का अधिग्रहण किया जाना था। सेक्शन-4 और सेक्शन-6 के बीच में जमीन को छोडा़ जा सकता है परंतु सेक्शन-6 होने के बाद सरकार को पूरी जमीन का अधिग्रहण करना होता है। पूर्व की सरकार के समय में लगभग 650 एकड़ भूमि छोड़ी गई। रोहतक के दिल्ली रोड पर सेक्टर 27 के लिए चौटाला सरकार के वक्त 850 एकड़ जमीन अधिग्रहण करने का प्रस्ताव किया था। इसके बाद प्रक्रिया शुरू हुई और 422 एकड़ जमीन का अवार्ड तक हो चुका था। लेकिन 2006 में हुड्‌डा सरकार ने उदार गगन प्राॅपर्टी को यहां निर्माण के लिए लाइसेंस दे दिया। इस कंपनी ने किसानों से जमीन अधिग्रहण की बात कहते हुए एग्रीमेंट कर लिया था। बाद में सरकार ने यह जमीन छोड़ दी।

बावल, बहादुरगढ़ और कुरुक्षेत्र जमीन मामलों में विपक्ष का वार : इनेलो और कांग्रेस की ओर से भी जमीन के मामले उठाए गए। अभय चौटाला ने बहादुरगढ़ में पीडब्ल्यूडी और नगर पालिका की जमीन पर कब्जे किए जाने की बात रखी। साथ ही कहा और कुरुक्षेत्र में अधिग्रहित जमीनों को छोड़ने का मामला भी उठाया। कांग्रेसी विधायक कर्ण सिंह दलाल ने बावल में 2500 एकड़ से ज्यादा जमीन छोड़ने का मुद्दा उठाया। उन्होंने सरकार से पूछा कि वहां की जमीन क्यों छोड़ी गई। इस पर मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने जवाब दिया कि बावल में जमीन किसानों के हितों को देखते हुए छोड़ी गई है। अब सुप्रीम कोर्ट ने हाइकोर्ट को दो महीने में इस मामले को निपटाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि रिपोर्ट में जिन-जिन बातों की सिफारिश होगी, उसी अनुसार कार्रवाई की जाएगी।

अपनों को भी नहीं छोड़ा: मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्‌डा पर निशाना साधा। कहा, चहेतों को पंचकूला में प्लाट दिए। राेहतक में भी अपनो को नहीं छोड़ा। मानेसर में लोगों को डराकर जमीन ले ली गई।

सरकार ढींगरा की रिपोर्ट क्यों नहीं सदन में ला रही : कांग्रेसी विधायक कर्ण सिंह दलाल ने कहा कि फैसले में हुड्‌डा का नाम नहीं है। सरकार बदनाम कर रही है। कुलदीप शर्मा ने कहा कि सरकार ने ढींगरा आयोग की रिपोर्ट सदन में रखनी चाहिए थी।

सस्पेंड करने के बाद इनेलो विधायकों का हंगामा

विधानसभा में मंगलवार को 15 इनेलो विधायकों सस्पेंड कर दिया गया, जिसके बाद उन्होंने इसे गलत बताते हुए सरकार के खिलाफ नारेबाजी की।

ऐसा कोई सगा नहीं, जिसे कांग्रेस ने ठगा नहीं : सीएम

मुख्यमंत्री ने कहा कि पूर्व सीएम हुड्‌डा ने कहा था कि एक इंच जमीन का गलत अधिग्रहण नहीं किया। उन्होंने कहा कि हुड्डा अब हिम्मत रखें और ये ना कहे राजनीतिक द्वेष के चलते ऐसा हुआ है। ऐसा कोई सगा नहीं, जिसे कांग्रेस ने ठगा नहीं। रोहतक वालों को भी नहीं छोड़ा। उन्होंने कहा कि राजनीति द्वेष से कोई कार्यवाही नहीं होगी। ढींगरा आयोग की रिपोर्ट के सदन में पेश न होने पर कहा कि इस संबंध में हाइकोर्ट में हरियाणा के महाधिवक्ता द्वारा रिपोर्ट को सार्वजनिक नहीं करने की अंडरटेकिंग दी हुई है।

कांग्रेसी विधायकों में तालमेल का अभाव

कांग्रेस विधायक की नेता किरण चौधरी है, जो तंवर के खेमे से हैं। बाकी विधायक हुड्‌डा खेमे के हैं। इनमें तालमेल की कमी नजर आ रही है। जहां भाजपाई और इनेलो विधायक अपने नेता का इशारा समझ जाते हैं, वहीं किरण को अपने विधायकों को खड़े होने के लिए बोलना पड़ता है। हालांकि कुलदीप शर्मा, कर्ण दलाल, आनंद सिंह दांगी और रघुबीर कादियान मोर्चा जरूरत संभालते हैं, लेकिन वह अपने हिसाब से।

17 महीने में 1.21 लाख गोवंश स्थानान्तरित

बेसहारा गोवंश को सहारा देने के लिए सरकार की ओर से बहुतेरेे दावे किए जा रहे हैं, फिर भी सड़कों पर गोवंश दिख रहा है। पिछले 17 माह में प्रदेश के 22 जिलों में 121712 गोवंश स्थानान्तरित किए हैं। सबसे अधिक 19022 गोवंश सिरसा, 14236 हिसार व फतेहाबाद से 12843 स्थानान्तरित किए हैं। हरियाणा गोसेवा आयोग की वर्ष 2017-18 में महज 70 लाख रुपए खर्च किए हैं। वर्ष 2017-18 में अम्बाला में 15 लाख, झज्जर में 15 लाख रुपए, कुरुक्षेत्र में 20 लाख रुपए, रेवाड़ी में 20 लाख की राशि खर्च की गई है।

गीता महोत्सव पर 19.17 करोड़ खर्च किए गए

अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव 2017 में प्रदेश पर 1917.27 लाख रुपए की राशि सरकार की ओर से खर्च की गई। शैक्षणिक एवं खेल प्रतियोगिताओं पर सबसे अधिक 631.13 लाख रुपए खर्च किए हैं। जहां तक प्रचार की बात है हिसार में प्रचार के नाम पर एक नया पैसा खर्च नहीं किया गया। जबकि सोनीपत, नारनौल, फतेहाबाद में भी बहुत कम राशि खर्च की गई है। 9.90 करोड़ रुपए कुरुक्षेत्र विकास बोर्ड ने खर्च किए।

भावांतर भरपाई योजना में 4435 किसान पंजीकृत

कृषि मंत्री ओपी धनखड़ ने कहा कि प्रदेश में थोक मंडी में बागवानी फसलों के कम मूल्य के दौरान किसानों को प्रोत्साहन देकर उनके जोखिम को कम करने के उद्देश्य से शुरू की भावांतर भरपाई योजना के तहत 28 फरवरी तक 4435 किसानों को पंजीकृत किया है। इस योजना के तहत जो किसान लाभ प्राप्त करेेंगे उन्हें पहली अप्रैल से शुरू होने वाली बिक्री अवधि के दौरान माना जाएगा।वे मंगलवार को बजट सत्र के दौरान विधायक कुलदीप शर्मा द्वारा पूछे गए एक सवाल के जवाब में बोल रहे थे।

1345 कृषि फीडरों पर पीएटी ट्रांसफार्मर स्थापित

पीएटी ट्रांसफार्मर के स्थापित करने के संबंध में सीएम मनोहर लाल ने कहा कि राज्य में 1345 कृषि फीडरों पर पीएटी ट्रांसफार्मर स्थापित किए जा चुके हैं और शेष फीडरों को वित्त वर्ष 2018-19 के दौरान शामिल कर लिया जाएगा। वर्तमान सरकार ने भिवानी, चरखी-दादरी, महेन्द्रगढ़, रेवाड़ी, झज्जर, गुरुग्राम,हिसार, अम्बाला और कैथल जिलों के 213 गांवों के शुष्क एवं पानी की कमी वाले क्षेत्रों में नहरी पानी की आपूर्ति की और 18 विधानसभा क्षेत्रों को कवर किया है।

X
पूर्व सीएम हुड‌्डा की बढ़ेंगी मुश्किलें, सोनीपत और रोहतक जमीन समेत 6 मामलों में हुड‌्डा के खिलाफ सीबीआई जांच
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..