• Hindi News
  • Haryana
  • Kharkhoda
  • फिम्स के मैनेजिंग डायरेक्टर समेत 11 पर केस दर्ज, कोर्ट के आदेश पर कार्रवाई
विज्ञापन

फिम्स के मैनेजिंग डायरेक्टर समेत 11 पर केस दर्ज, कोर्ट के आदेश पर कार्रवाई / फिम्स के मैनेजिंग डायरेक्टर समेत 11 पर केस दर्ज, कोर्ट के आदेश पर कार्रवाई

Bhaskar News Network

Mar 16, 2018, 03:15 AM IST

Kharkhoda News - दिल्ली रोड स्थित फिम्स अस्पताल पर मुश्किल बढ़ गई हैं। स्वास्थ्य विभाग की जांच रिपोर्ट में दोषी करार होने पर अब...

फिम्स के मैनेजिंग डायरेक्टर समेत 11 पर केस दर्ज, कोर्ट के आदेश पर कार्रवाई
  • comment
दिल्ली रोड स्थित फिम्स अस्पताल पर मुश्किल बढ़ गई हैं। स्वास्थ्य विभाग की जांच रिपोर्ट में दोषी करार होने पर अब जेएमआईसी जोगेंद्री ने भी दायर किए गए इस्तगासे पर सुनवाई की। तथ्यों को देखने के बाद इस्तगासे पर एफआईआर दर्ज करने के आदेश राई थाना पुलिस को दे दिए हैं। पुलिस अस्पताल मैनेजिंग डायरेक्टर सहित 11 पर केस दर्ज कर लिया है। मामले में राजपाल जैन, अनिल जैन, संदीप जैन, सुरभी, सचिन, राकेश, डाॅ. अनिल, डाॅ. मनीष, रजत को नामजद किया गया है।

अब पुलिस को करनी होगी निष्पक्ष जांच : पीड़ित के अधिवक्ता राजीव चौधरी व मांगेराम ने बताया कि कोर्ट ने तथ्यों में सच्चाई पाई। जिसके बाद ही एफआईआर करने के आदेश दिए। अब पुलिस को अपनी कार्रवाई निष्पक्ष करनी होगी।

यह था मामला : जगत निवासी लिवासपुर ने सितंबर माह में अपना बेटा दिल्ली रोड स्थित फिम्स अस्पताल में भर्ती करवाया था। यहां उसे डेंगू बताकर इलाज किया गया। जगत सिंह ने आरोप लगाया कि मौत का भय दिखाकर उससे करीब साढ़े चार लाख रुपए ऐंठ लिए। जबकि उसे बिल भी पूरे नहीं दिए। यहां बेटा जितने दिन भर्ती रहा उसकी प्लेटलेट सात हजार से कम रही। जब उन्हें शक हुआ कि यहां उनसे पैसे ऐंठे जा रहे हैं तो उन्होंने सोनीपत शहर की वर्मा लैब से बेटे की प्लेटलेट चेक करवाई थी। जिसमें प्लेटलेट करीब 50 हजार मिली थी। इतना अंतर मिलने पर उन्हें पता चला कि उनसे धोखाधड़ी हुई और पैसे ऐंठे गए। मामले पर निजी अस्पताल ने जगत सिंह के आरोपों को नकार दिया था।

डीसी ने कार्रवाई के लिए लिखा

डा. आदर्श व डा. सीता राम ने उक्त मामले की जांच की थी। जांच में इन दोनों अधिकारियों ने निजी अस्पताल की लैब रिपोर्ट पर शक हुआ। निजी लैब व अस्पताल की लैब में काफी अंतर था। जिसके बाद निजी अस्पताल को दोषी करार दिया था। इसके साथ दोनों अधिकारियों ने अपनी जांच रिपोर्ट डीसी को सौंपी थी। डीसी ने लैब पर कार्रवाई के लिए यह फाइल काफी दिन पहले सरकार को भेज थी। लेकिन अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई। पीड़ित जगत सिंह व उनके वकील मांगेराम ने कहा कि दोषी पाए जाने पर भी सुस्त कार्रवाई रही। सरकार को मामले में तुरंत संज्ञान लेना चाहिए।

मौत का भय दिखा एेंठे पैसे


X
फिम्स के मैनेजिंग डायरेक्टर समेत 11 पर केस दर्ज, कोर्ट के आदेश पर कार्रवाई
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन

किस पार्टी को मिलेंगी कितनी सीटें? अंदाज़ा लगाएँ और इनाम जीतें

  • पार्टी
  • 2019
  • 2014
336
60
147
  • Total
  • 0/543
  • 543
कॉन्टेस्ट में पार्टिसिपेट करने के लिए अपनी डिटेल्स भरें

पार्टिसिपेट करने के लिए धन्यवाद

Total count should be

543
विज्ञापन