• Home
  • Haryana News
  • Kharkhoda
  • आढ़ती से डेढ़ लाख रुपए की रिश्वत ले रहे डीएमईओ को गिरफ्तार किया
--Advertisement--

आढ़ती से डेढ़ लाख रुपए की रिश्वत ले रहे डीएमईओ को गिरफ्तार किया

सोनीपत | विजिलेंस टीम ने मार्केट कमेटी सोनीपत के डीएमईओ (डिस्ट्रिक्ट मार्केट इंफोर्समेंट ऑफिसर) को एक आढ़ती से डेढ़...

Danik Bhaskar | Apr 27, 2018, 02:30 AM IST
सोनीपत | विजिलेंस टीम ने मार्केट कमेटी सोनीपत के डीएमईओ (डिस्ट्रिक्ट मार्केट इंफोर्समेंट ऑफिसर) को एक आढ़ती से डेढ़ लाख रुपए की रिश्वत लेते गिरफ्तार किया है। उसके खिलाफ भ्रष्टाचार अधिनियम के तहत केस दर्ज किया है। दरअसल, खरखौदा की नई अनाज मंडी स्थित गणेश ट्रेडिंग कंपनी के आढ़ती ने डीजी विजिलेंस को शिकायत दी थी कि दूसरे राज्य का गेहूं खरीदने पर उसका लाइसेंस एक सप्ताह के लिए सस्पेंड कर दिया गया था। इस बारे में वह डीएमईओ राकेश जैन से मिला तो उन्होंने डेढ़ लाख रुपए रिश्वत मांगी। साथ ही धमकी दी कि रुपए नहीं दिए तो लाइसेंस लाइफटाइम के लिए सस्पेंड कर दिया जाएगा। विजिलेंस पानीपत की टीम ने गुरुवार को प्लान बनाकर उसे गिरफ्तार कर लिया।

बाहर का गेहूं खरीदा था, रुपए नहीं देने पर लाइसेंस लाइफटाइम के लिए सस्पेंड करने की दी थी धमकी

विजिलेंस इंस्पेक्टर को 7 लाख रु. की रिश्वत देने जा रहा रिटायर्ड जेई पकड़ा

हिसार | विजिलेंस इंस्पेक्टर को मिठाई के डिब्बे में 7 लाख रु. की रिश्वत देने कार में जा रहे रिटायर्ड जेई को गिरफ्तार किया गया है। फतेहाबाद सीआईडी टीम ने यह कार्रवाई की है। रिटायर्ड जेई मोहन लाल नारंग ने पूछताछ में बताया कि फतेहाबाद में वेयर हाउस की निर्माण सामग्री के सैंपल फेल होने पर केस न करने के एवज में 40 लाख की रिश्वत मांगी गई थी। 25 लाख रु. पहले दिए जा चुके थे। विजिलेंस इंस्पेक्टर भूपेंद्र शर्मा ने कहा कि यह उन्हें बदनाम करने की साजिश है। पुलिस ने मोहन लाल नारंग, भूपेंद्र शर्मा, रिटायर्ड एसडीई आरके अग्रवाल, सचिव विनीत चावला, जेई अनूप चंद व 2 ठेकेदारों पर भ्रष्टाचार निरोधक कानून की धारा 7,12,13,49,88 के तहत केस दर्ज कर लिया है।

वेयर हाउस मामले में कार्रवाई न करने के एवज में 40 लाख की रिश्वत मांगने का आरोप, 7 पर केस