• Home
  • Haryana News
  • Kharkhoda
  • खरखौदा में 13 साल से बंद पड़े 33 केवीए सब स्टेशन को शुरू करने की अब तैयारी
--Advertisement--

खरखौदा में 13 साल से बंद पड़े 33 केवीए सब स्टेशन को शुरू करने की अब तैयारी

बिजली निगम के अधिकारियों ने शहर की बिजली व्यवस्था सुधारने की दिशा में कार्रवाई शुरू कर दी है। अगर निगम की योजना...

Danik Bhaskar | Jun 06, 2018, 02:40 AM IST
बिजली निगम के अधिकारियों ने शहर की बिजली व्यवस्था सुधारने की दिशा में कार्रवाई शुरू कर दी है। अगर निगम की योजना सिरे चढ़ी तो खरखौदा में लगने वाले बिजली के अवैध कटों से छुटकारा मिल जाएगा। यही नहीं सरकार के लाखों रुपए की राशि से बने पड़ेे 33 केवीए सब स्टेशन का जीर्णोद्धार भी हो जाएगा। एसडीओ अश्विनी धनखड़ ने इस डेड पड़े 33 केवीए सब स्टेशन का मुआयना कर इसे वर्किंग करने की दिशा में कार्रवाई करते हुए इस्टीमेट वरिष्ठ अधिकारियों को भेजा है जिसकी अप्रूवल भी मिल गई है। जल्द ही इस 33 केवीए सब स्टेशन को वर्किंग करने की दिशा में काम शुरू किया जाना है।

ये थी पहले व्यवस्था

वर्ष 2003-2004 में तत्कालीन मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला ने खरखौदा ड्रेन 8 के पास 132 केवीए का सब स्टेशन बनाकर जनता के सुपुर्द किया गया था। इससे पहले खरखौदा व आसपास के गांवों की बिजली खरखौदा बिजली कार्यालय के पास स्थित 33 केवीए सब स्टेशन से सप्लाई होती थी। जो वर्ष 2003-04 से अब डेड पड़ा हुआ था। जिसकी सुध अब एसडीओ अश्वनी धनखड़ ने ली है और इसे फिर से चालू करने की दिशा में योजना बनाई है।

अब ये है नई योजना

नई योजना के मुताबिक पहले चरण में 33 केवीए सब स्टेशन को फिर से वर्किंग मोड़ में लाया जाएगा। इसके लिए बिजली निगम के इंजीनियरों ने इस्टीमेट बनाकर मुख्यालय भेजा था। जिसे अप्रूवल मिल गई है और इस पर जल्द ही काम शुरू करके इस डैड पड़े 33 केवीए सब स्टेशन को शुरू किया जाना है। जिसके लिए जल्द ही काम शुरू होना है। इस योजना पर लाखों रुपए की राशि खर्च की जानी है।

खरखौदा. बंद पड़ा 33 केवीए सब स्टेशन जिसे अब फिरे से वर्किंग किए जाने की योजना है।

ये मिलेगा फायदा

खरखौदा शहर के बंद पड़े 33 केवीए सब स्टेशन वर्किंग में आने के बाद खरखौदा शहर की बिजली इसी सब स्टेशन से शुरू हो जाएगी। ओवरलोड के कारण जो बिजली के अघोषित कट लगते हैं खरखौदा शहर वासियों को इससे छुटकारा मिल जाएगा। यही नहीं 132 केवीए सब स्टेशन पर इमरजेंसी व मरम्मत के दौरान भी क्षेत्र में बिजली की आपूर्ति रहेगी। यह बस स्टेशन एक अतिरिक्त सब स्टेशन के रूप में काम करेगा।

जल्द शुरू होगा काम : धनखड़