• Home
  • Haryana News
  • Kharkhoda
  • अधिग्रहित जमीन पर बने बाईपास पर दौड़ रहे वाहन किसान भटक रहे मुआवजे को
--Advertisement--

अधिग्रहित जमीन पर बने बाईपास पर दौड़ रहे वाहन किसान भटक रहे मुआवजे को

खरखौदा . मुआवजे के लिए सीएम विंडो में शिकायत देने आए किसान। भास्कर न्यूज |खरखौदा खरखौदा बाईपास निकले हुए करीब 12...

Danik Bhaskar | Jun 22, 2018, 02:40 AM IST
खरखौदा . मुआवजे के लिए सीएम विंडो में शिकायत देने आए किसान।

भास्कर न्यूज |खरखौदा

खरखौदा बाईपास निकले हुए करीब 12 वर्ष होने को है, लेकिन अभी भी कई किसान ऐसे हैं, जिन्हें मुआवजा नहीं मिला और वे मुआवजे के लिए कभी जिला राजस्व अधिकारी तो कभी जिला कष्ट निवारण समिति की मीटिंग में भी शिकायत कर चुके हैं, लेकिन अभी तक कोई समाधान नहीं हुआ है। आखिरकार किसानों ने अब मामले की शिकायत खरखौदा सीएम विंडो में दी है।

किसान जिले सिंह, कवल सिंह , पूर्ण सिंह , बिजेंद्र का कहना है कि उनकी जमीन खरखौदा बाईपास में अधिग्रहण की गई थी। सांपला रोड तक खरखौदा में बाईपास निर्माण के लिए भूमि का अधिग्रहण 2006 में हुआ था और 19 जनवरी 2006 में बाकी किसानों को मुआवजा मिल गया था, लेकिन उस समय उनकी जमीन की खेवट अलग-अलग न होने के कारण उस समय मुआवजा नहीं मिला। जबकि वर्ष 2013-2014 में उनकी खेवट अलग-अलग हो गई। उसी समय से वे निरंतर अपने मुआवजे के लिए चक्कर काट रहे, लेकिन जिला राजस्व अधिकारी एवं भूमि अधिग्रहण कलेक्टर द्वारा अभी तक उनकी अधिग्रहण हुई जमीन का मुआवजा नहीं दिया। इससे पहले दिनांक 26-04-2018 को किसानों ने जिला कष्ट निवारण मीटिंग में भी शिकायत दी है, लेकिन इसके बाद भी समाधान नहीं हुआ। पिछले वर्ष इस मामले की शिकायत दिनांक 09-08-2017 को अंबाला भूमि अधिग्रहण के वरिष्ठ अधिकारियों को भी शिकायत भेजी थी। लेकिन अभी तक समाधान नहीं हुआ है और ना ही में मुआवजा राशि मिली है। मामले की शिकायत अब किसानों से सीएम विंडो में दी है और मांग की है कि उनकी समस्या का हल निकालकर उन्हें मुआवजा राशि वितरित की जाए।