खरखौदा

  • Hindi News
  • Haryana News
  • Kharkhoda
  • ‘कपास के लिए नाईट्रोजन आधारित ज्यादा खादों का प्रयोग न करें किसान’
--Advertisement--

‘कपास के लिए नाईट्रोजन आधारित ज्यादा खादों का प्रयोग न करें किसान’

खरखौदा. किसानों को जानकारी देते कृषि वैज्ञानिक जितेंद्र बामल। भास्कर न्यूज | खरखौदा शुक्रवार को रोहतक मार्ग...

Dainik Bhaskar

Aug 11, 2018, 02:41 AM IST
‘कपास के लिए नाईट्रोजन आधारित ज्यादा खादों का प्रयोग न करें किसान’
खरखौदा. किसानों को जानकारी देते कृषि वैज्ञानिक जितेंद्र बामल।

भास्कर न्यूज | खरखौदा

शुक्रवार को रोहतक मार्ग पर स्थित अनाज मंडी में खंड कृषि विभाग के तत्वावधान में एक किसान जागरूकता कैंप का आयोजन किया गया। जिसमें महिलाओं सहित बड़ी संख्या में किसानों ने हिस्सा लिया। इस मौके पर किसानों को विभिन्न फसलों में लगने वाले रोगों के बारे में जानकारी दी। कृषि वैज्ञानिक जितेंद्र बामल व खंड कृषि अधिकारी सुरेंद्र कुमार ने किसानों बताया कि सब्जियों की फसलों में सफेद मक्खी का प्रकोप कई बार आ सकता है, इससे किसान जागरूक रहे और समय पर कदम उठाए। कपास के लिए नाईट्रोजन आधारित ज्यादा खादों का प्रयोग नहीं करना चाहिए। शुक्रवार को अधिकारियों ने किसानों को बताया कृषि के करीब 80 यंत्रों पर किसानों के लिए विशेष छूट है। किसान अगर संयुक्त रूप से इन्हें खरीदना चाहते हैं तो किसानों को 80 प्रतिशत छूट मिलेगी। अगर अकेला किसान इन यंत्रों को खरीदना चाहेगा तो उन्हें 50 प्रतिशत छूट मिलेगी। जिनमें कंबाइन हारवेस्टर एस.एम.एस मशीन, हैप्पी सीडर, पैडी स्ट्रा चोपर, शर्ब मास्टर, कटर कम सपरेडर, रिवर्सीबल एमबी प्लो, रोटरी सलेशर, जीरो टिल ड्रिल, रोटावेटर सहित विभिन्न कृषि यंत्रों पर मिलने वाली छूट के बारे में जानकारी दी।

खरखौदा. किसान जागरूकता सम्मेलन के तहत जानकारी प्राप्त करते किसान।

किसान जागरूकता सम्मेलन में दी किसानों को कृषि संबंधित जानकारी

X
‘कपास के लिए नाईट्रोजन आधारित ज्यादा खादों का प्रयोग न करें किसान’
Click to listen..