Hindi News »Haryana »Kharkhoda» मधुबन लौट रहे कांस्टेबल की कार की टक्कर लगने से मौत

मधुबन लौट रहे कांस्टेबल की कार की टक्कर लगने से मौत

बीमार मां के स्वास्थ्य का हाल जानकर भतीजे के साथ बाइक पर सवार होकर मधुबन जा रहे हरियाणा पुलिस के जवान को करहंस के...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 18, 2018, 02:50 AM IST

बीमार मां के स्वास्थ्य का हाल जानकर भतीजे के साथ बाइक पर सवार होकर मधुबन जा रहे हरियाणा पुलिस के जवान को करहंस के नजदीक एक कार चालक ने टक्कर मार दी। टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि पुलिस कर्मी ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। जबकि हादसे के बाद कार सवार मौके से फरार हो गया। सूचना मिलने के बाद हाईवे व समालखा थाना पुलिस ने शव को कब्जे में लिया और पानीपत के सिविल अस्पताल में पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सौंप दिया।

पुलिस को दिए बयान में खरखौदा के सिसाना गांव के सोनू ने बताया कि उसका चाचा सुनील हरियाणा पुलिस में था। हाल में मधुबन में ट्रेनिंग कर रहा था। उसका चाचा सुनील गांव में उसकी बीमार दादी का हालचाल जानने के लिए आया था। रविवार सुबह वह अपने चाचा के साथ मधुबन किसी काम के लिए चला था। समालखा से निकलते ही डीएसपी स्कूल के नजदीक वह पेशाब करने के लिए बाइक से उतरा। जबकि उसका चाचा बाइक के पास ही खड़ा था। सोनू के मुताबिक दिल्ली की तरफ से एक करनाल नंबर की कार ने बाइक के पास खड़े उसके चाचा को टक्कर मार दी। जिसके बाद उसकी चाचा सुनील की मौत हो गई। बताया जाता है कि सुनील पानीपत सिटी थाने में तैनात था। हाल में उसकी मधुबन में ट्रेनिंग पर चल रहा था।

एक साल पहले हो चुकी है कांस्टेबल के भाई की मौत : कांस्टेबल सुनील कुमार के पास चार बच्चे हंै। सुनील की मौत से चारों बच्चों के सिर से पिता का साया हमेशा के लिए उठ गया। मौत की खबर सुनकर घटनास्थल पर पहुंचे परिजनों का रो रोककर बुरा हाल हो रहा था। बताया जाता है कि सुनील कुमार दो भाई है। बड़े भाई की करीब एक वर्ष पहले सड़क हादसे में मौत हो गई थी। घर की सारी जिम्मेदारी सुनील के कंधों पर थी। लेकिन आज हादसे में सुनील की भी मौत हो गई। मृतक सुनील कुमार के पिता भी नहीं है। जांच कर्मी अनूप कुमार ने बताया कि मृतक सुनील कुार के भतीजे सोनू के बयान पर अज्ञात कार चालक के खिलाफ केस दर्ज किया गया है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kharkhoda

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×