Hindi News »Haryana »Kharkhoda» विदेश में हुए 1500 करोड़ के 10 एमओयू, 1 हजार को मिलेगा काम

विदेश में हुए 1500 करोड़ के 10 एमओयू, 1 हजार को मिलेगा काम

भास्कर न्यूज | राजधानी हरियाणा प्रदेश में निवेश के लिए यूके गए मुख्यमंत्री मनोहर लाल वहां से 1500 करोड़ रुपए के 10...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 17, 2018, 02:55 AM IST

विदेश में हुए 1500 करोड़ के 10 एमओयू, 1 हजार को मिलेगा काम
भास्कर न्यूज | राजधानी हरियाणा

प्रदेश में निवेश के लिए यूके गए मुख्यमंत्री मनोहर लाल वहां से 1500 करोड़ रुपए के 10 एमआेयू करके लौटें हैं। यदि यह धरातल पर उतरते हैं तो करीब एक हजार लोगों को सीधे रूप से रोजगार मिलेगा।

मुख्यमंत्री बुधवार को हरियाणा निवास में विदेशी दौरे की जानकारी पत्रकारों को दे रहे थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि हाउस ऑफ लॉर्ड्स में लॉर्ड राज लूमबा के साथ हुई बैठक में 6 एमओयू पर हस्ताक्षर किए गए हैं। इनमें पोंटाक (यूके इंडिया इनोवेशन फंड) के साथ फिनटेक, स्मार्ट सिटीज और इमर्जिंग टेक्नोलॉजी को लेकर एमओयू हुआ। इसी प्रकार यूके इंडिया ग्लोबल बिजनेस लिमिटेड और अन्य कंपनियों के साथ एमओयू हुए हैं। एमओयू स्वच्छ शीत श्रृंखलाओं के लिए उत्कृष्टता केंद्र विकसित करने के लिए एक सहयोग देने और गर्मियों में दो विशेष स्वच्छ शीत कार्यशालाएं भारत और ब्रिटेन में एक-एक आयोजित की जाएंगी। उन्होंने कहा कि शेफील्ड के रिसर्च सेंटर की तर्ज पर हरियाणा में भी एक सेंटर बनाया जाएगा। जिसमें खेल की और संभावनाएं तलाशी जाएंगी।

इधर, हरियाणा में पूंजी निवेश से पीछे हटा चीन

इधर, चीन के बहुप्रतिष्ठित वांडा उद्योग समूह ने हरियाणा में पूंजी निवेश से हाथ पीछे खींच लिया है। मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर ने वांडा समूह से हरियाणा से बाहर होने की पुष्टि करते हुए साफ कर दिया है कि अब यह जमीन अन्य उद्योग समूह को आबंटित की जाएगी। हरियाणा की पूर्व कांग्रेस सरकार के कार्यकाल के दौरान सोनीपत जिले के खरखौदा में आईएमटी की स्थापना के लिए करीब ढाई हजार एकड़ भूमि का अधिग्रहण किया था। इस बीच हरियाणा में सत्ता परिवर्तन हो गया। बता दें कि वांडा ग्रुप ने दिल्ली के नजदीक जमीन की मांग की थी।

सीएम के दौरे की खास बातें

पत्रकार वार्ता करते सीएम मनोहर लाल खट्‌टर।

यूके की राष्ट्रीय स्वास्थ्य योजना और लंदन के परिवहन सिस्टम को अपनाया जाएगा। एचएसआईडीसी के प्रबंध निदेशक टीएल सत्यप्रकाश को दोनों देशों के समन्वय के लिए नोडल अधिकारी बनाया गया है।

ट्रांसपोर्ट फॉर लंदन (टीएफएल) के साथ सीएम की मीटिंग हुई। वहां का ट्रांसपोर्ट सिस्टम अच्छा है। ऐसे में परिवहन मंत्री या परिवहन सचिव के नेतृत्व में हरियाणा की एक टीम को प्रदेश के गुरुग्राम, फरीदाबाद और अन्य शहरी क्षेत्रों के लिए परिवहन प्रणाली विकसित करने के लिए वहां का सिस्टम समझने के यूके जाएगी।

हरियाणा में मल्टी-सुपर स्पेशियलिटी देखभाल अस्पताल और अन्य सेवाओं की स्थापना के प्रस्ताव पर इंडो यूके इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ के साथ एक बैठक हुई। उनकी परियोजना और संबंधित मामलों के लिए विभिन्न स्थलों के विकल्प पर चर्चा की गई।

सौलर से भी गाड़ी और मोबाइल तक चार्ज यूके में किए जाते हैं। ऐसे में हरियाणा में भी इसकी संभावना तलाशी जाएगी।

पंचकूला हिंसा की विदेश में भी चर्चा

हरियाणा में भाजपा के साढ़े तीन साल में चार बार जले हरियाणा की चर्चा विदेशों में भी हो रही है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल के विदेश दौरे पर यूके में पंचकूला हिंसा की बात भी हुई। हालांकि सीएम ने यह कहा कि वहां यह पूछा गया कि सरकार ने इतनी जल्दी इस हिंसा पर कैसे काबू पाया। मुख्यमंत्री ने इस हिंसा पर पहली बार कहा कि यह सरकार का फैल्योर नहीं था। बल्कि यह कोर्ट का फैसला सुनाए जाने पर हुआ था। विदेश से लौटने के बाद मुख्यमंत्री हरियाणा निवास में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि ज्यादा नुकसान को रोकने के लिए थोड़ा नुकसान होना गलत नहीं है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kharkhoda

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×