--Advertisement--

चुनाव आयुक्त और अधिकारियों को नोटिस

13 मई को संपन्न हुए खरखौदा नगर पालिका चुनाव के मदद्नजर जो नामांकन फार्म रद्द किए गए थे, उनमें वार्ड 12 से भी एक नामांकन...

Dainik Bhaskar

May 27, 2018, 03:20 AM IST
13 मई को संपन्न हुए खरखौदा नगर पालिका चुनाव के मदद्नजर जो नामांकन फार्म रद्द किए गए थे, उनमें वार्ड 12 से भी एक नामांकन अमित कुमार का था। जिसने आरओ पर आरोप लगाया था कि पहले उनका नामांकन फार्म ओके किया गया बाद में अटेस्ट संबंधी मिस्टेक दिखाकर उसके नामांकन फार्म को रद्द किया गया। जिसकी सूचना उसे अगले दिन दी गई। जबकि छंटनी के दौरान जब उसे बुलाया गया तो उसका नामांकन फार्म ओके एवं एक्सेप्टिड बताया था।

नामांकन फार्म रिजेक्ट होने से नामांकन कर्ता चुनाव नहीं लड़ सका। अमित कुमार ने पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट में केस दायर कर कहा है कि उसके अधिकारों का जानबूझकर हनन किया गया है। जिससे दूसरा पक्ष सर्वसम्मति से वार्ड पार्षद बन गया है। हाईकोर्ट ने इस मामले में आरओ खरखौदा, जिला चुनाव अधिकारी व चुनाव आयुक्त को नोटिस जारी किए हैं। जिसमें 3 जुलाई की तारीख लगी है। अधिकारियों को 3 जुलाई को अपना पक्ष रखना है। ऐसा पहली बार हुआ है जब खरखौदा नगरपालिका चुनाव के दो मामले हाईकोर्ट तक पहुंचे हैं। जिनमें से एक को तत्काल राहत मिल गई थी। जबकि दूसरे मामले में 3 जुलाई की डेट लगी है और चुनाव आयोग व अधिकारियों को नोटिस हुए हैं। एसडीएम विजय सिंह ने कहा कि उन्हें इस बारे में अभी कोई जानकारी नहीं है।

आदेशों से लड़ा था चुनाव

वार्ड संख्या 7 से प्रत्याशी मैक्सीन का नामांकन नो-ड्यूज होने के बाद भी पुराने पेंडिंग को लेकर रद्द किया गया था। जिन्होंने हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया और वहां से राहत मिली। जिसके बाद उन्हें रात्रि पौने 11 बजे खुद डीसी की मौजूदगी में सिंबल अलाट करना पड़ा।


X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..