Hindi News »Haryana »Kharkhoda» शहर में ड्रेन पर लोगों का कब्जा, 100 के खिलाफ मामला दर्ज

शहर में ड्रेन पर लोगों का कब्जा, 100 के खिलाफ मामला दर्ज

जिस ड्रेन की चौड़ाई 27 फीट हो और अवैध कब्जों के बाद ड्रेन की चौड़ाई 2 से 4 फीट चौड़ी रह जाए या फिर कई स्थानों से पूरी ड्रेन...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 25, 2018, 03:20 AM IST

जिस ड्रेन की चौड़ाई 27 फीट हो और अवैध कब्जों के बाद ड्रेन की चौड़ाई 2 से 4 फीट चौड़ी रह जाए या फिर कई स्थानों से पूरी ड्रेन ही गायब हो जाए तो ऐसे में पानी निकासी व्यवस्था कैसे होगी? ऐसा हाल खरखौदा शहर वासियों के साथ हा रहा है। जहां पर प्रशासनिक अनदेखी के कारण ड्रेन की चौड़ाई 27 फीट की बजाय 2 फीट रह गई है। जो कई स्थानों पर पूरी तरह से अवैध कब्जों में चली गई है। देर से ही सही ड्रेनेज महकमें ने ड्रेन पर कब्जे करने वाले करीब 100 लोगों पर केस दर्ज कराए हैं।

गौरतलब है कि करीब 30 वर्ष पहले खरखौदा में पानी निकासी की कोई समस्या नहीं है, 27 फीट चौड़ी ड्रेन के माध्यम से होती थी। खरखौदा के सभी जोहड़ आपस में कनेक्ट होकर इस ड्रेन से भी कनेक्ट थे जिससे जोहड़ ओवरफ्लो होते ही ओवरफ्लो बरसाती पानी ड्रेन के माध्यम से खरखौदा शहर से बाहर चला जाता था, लेकिन खरखौदा में मुख्य मार्ग के साथ साथ करीब एक किलोमीटर लंबी ड्रेन पर अवैध कब्जे होते चले गए और 27 फीट चौड़ी ड्रेन कहीं से पूरी तरह से गायब हो गई तो कई स्थानों पर 2 तो कई स्थानों पर मात्र 4 फीट चौड़ी ही रह गई है।

खरखौदा बाढ़ राहत ड्रेन पर जिन कब्जा धारकों ने कब्जा किया है उन्हें बेदखल करने के लिए पीपी एक्ट के तहत केस किया है। ताकि ड्रेन से कब्जे हटाए जा सके और बाढ़ राहत ड्रेन की सफाई कराई जा सके। -कैलाश चंद्र, एसडीओ ड्रेनेज विभाग, खरखौदा।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kharkhoda

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×