• Hindi News
  • Haryana
  • Kharkhoda
  • जर्जर कमरे में बैठने को मजबूर कर्मी, कई बार गिर चुका है लैंटर का मलबा
--Advertisement--

जर्जर कमरे में बैठने को मजबूर कर्मी, कई बार गिर चुका है लैंटर का मलबा

खरखौदा | खरखौदा बिजली कार्यालय की बिल्डिंग इतनी अधिक जर्जर हो चुकी है कि उसका प्लास्टर निरंतर झड़ रहा है। बिजली...

Dainik Bhaskar

May 31, 2018, 03:25 AM IST
जर्जर कमरे में बैठने को मजबूर कर्मी, कई बार गिर चुका है लैंटर का मलबा
खरखौदा | खरखौदा बिजली कार्यालय की बिल्डिंग इतनी अधिक जर्जर हो चुकी है कि उसका प्लास्टर निरंतर झड़ रहा है। बिजली कार्यालय के रेवेन्यू सेक्शन वाले कमरे में लेंटर का एक टुकड़ा अचानक नीचे गिरा। यहां पर उपभोक्ता भी काम कराने के लिए आए हुए थे, वे भी बाल बाल बच गए, नहीं तो बड़ा हादसा हो सकता था। कर्मचारियों ने मांग की है कि पिछले काफी समय से बिजली कर्मचारी अपनी जान जोखिम में डालकर यहां पर कार्य कर रहे हैं। जिससे कभी भी बड़ा हादसा हो सकता है। कर्मचारियों ने मांग की है कि इस दिशा में जल्द कदम उठाए जाएं और बिल्डिंग को विधिवत किया जाए। इस कमरे में काम करने वाले कर्मचारी एलडीसी सतेंद्र, जयदेव, उमेद व विजय का कहना है कि उनका यहां पर काम करना जोखिम मोल लेना हो गया है। इससे पहले भी यूनियन प्रधान प्रतीक ने कई बार विभाग को पत्र लिखकर यह मांग उठाई है, लेकिन इसकी तरफ कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा। जिससे कर्मचारियों को अपनी जान जोखिम में डालकर अपनी ड्यूटी करनी पड़ रही है। अधिकारी भी इस मामले में चुप्पी साधे बैठे हैं। सर्व कर्मचारी संघ यूनियन खरखौदा प्रधान प्रतीक का कहना है कि इस बारे में पत्राचार एवं मेल के माध्यम से वरिष्ठ अधिकारियों को भी सूचना भेजी जाएगी।

X
जर्जर कमरे में बैठने को मजबूर कर्मी, कई बार गिर चुका है लैंटर का मलबा
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..