Hindi News »Haryana »Kharkhoda» सीवरेज के मेनहाेल में उतरे 2 कर्मचारी बेहोश

सीवरेज के मेनहाेल में उतरे 2 कर्मचारी बेहोश

खरखौदा . सफाई के दौरान बेहोश हुए नरेंद्र उर्फ काला, इलाज करते डाॅक्टर । भास्कर न्यूज | खरखौदा मटिंडू मार्ग से...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 22, 2018, 03:35 AM IST

सीवरेज के मेनहाेल में उतरे 2 कर्मचारी बेहोश
खरखौदा . सफाई के दौरान बेहोश हुए नरेंद्र उर्फ काला, इलाज करते डाॅक्टर ।

भास्कर न्यूज | खरखौदा

मटिंडू मार्ग से गुजरने वाली सीवरेज लाइन की सफाई के लिए बगैर सेफ्टी किट प्रयोग किए सीवरेज मेनहाेल में उतरे दो सफाई कर्मी सीवरेज लाइन में बेहोश हो गए। जिन्हें काफी मशक्कत के बाद स्थानीय लोगों की मदद से बाहर निकाला उपचार के लिए निजी अस्पताल में भर्ती करवाया। इस हादसे से जन स्वास्थ्य विभाग के ठेकेदारों की बड़ी लापरवाही सामने आई है। जिससे स्थानीय लोगों में गहरा रोष व्याप्त है।

शनिवार को मटिंडू मार्ग पर मेनहोल की सफाई करने के लिए मेनहोल में उतरे ठेकेदार के दो कर्मी हालत बिगड़ने के कारण बड़ी मशक्कत के बाद दोनों को बाहर निकाला। बेहोशी की हालत में उन्हें खरखौदा अस्पताल में भर्ती कराया।

ठेकेदार की ये भी लापरवाही है कि जो दो सफाई कर्मी मेनहोल में उतरे उनमें से एक मजदूर सीवरेज सफाई से संबंधित भी नहीं था, वह केवल ठेकेदार के मजदूरों को जानता था, क्योंकि वह सफाई ठेकेदार का कारिंदा नहीं बल्कि ट्रीटमेंट प्लांट पर नौकरी करता है और दोपहर लंच करने के लिए अपने घर जा रहा था। रास्ते में उसने मेनहोल की सफाई करते हुए जानकार कर्मियों को देखा तो उनसे बात करने लगा, बातों-बातों में उनमें सहमति बन गई कि वह सीवर के मेनहोल में नीचे जाकर स्थिति देखेगा और ठेकेदार को दूसरा कारिंदा राजेश भी साथ उतरेगा।

इसी प्लानिंग के तहत नरेंद्र उर्फ काला व राजेश दोनों मटिंडू मार्ग पर मेनहोल में नीचे उतर गए। पहले नरेंद्र उर्फ काला नीचे उतरा इसके बाद जब दूसरा साथी राजेश मेनहोल में उतरा तो उसने शोर मचाना शुरू कर दिया और कहा कि नरेंद्र अंदर बेहोश पड़ा है। इतना कहने के बाद उसने भी शोर मचाना बंद कर दिया। ऊपर खड़े अन्य कर्मचारी राजबीर व काला ने लोगों को बुलाया और सेफ्टी बेल्ट से वार्ड 11 निवासी संदीप व मोहित की मदद से राजेश को बाहर निकाला।

ठेकेदार पर की जाएगी कार्रवाई

जन स्वास्थ्य विभाग के जेई गुलशन का कहना है कि सेफ्टी बेल्ट मंगाई गई थी, एक युवक ने ही सेफ्टी बेल्ट का प्रयोग किया दूसरे ने नहीं किया, दूसरा सीवरेज सफाई सिस्टम से अंजान था। उसे क्यों मेनहोल में उतारा गया, इस संदर्भ में ठेकेदार को चेतावनी दी गई है। सीवरेज मेनहोल में उतरने संबंधी सभी सेफ्टी किट होना अनिवार्य किया गया है। लापरवाही बरतने वाले ठेकेदार पर कार्रवाई की जाएगी।'-गुलशन, कार्यकारी जेई जन स्वास्थ्य विभाग,खरखौदा।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kharkhoda

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×