• Hindi News
  • Haryana
  • Kharkhoda
  • सामाजिक संगठन के साथ कचरा उठाने निकले डीसी काे मारा धक्का कूड़े के ढेर पर लेटीं महिला सफाईकर्मी, कूड़ा उठाए बिना लौटा प्रशासन
--Advertisement--

सामाजिक संगठन के साथ कचरा उठाने निकले डीसी काे मारा धक्का कूड़े के ढेर पर लेटीं महिला सफाईकर्मी, कूड़ा उठाए बिना लौटा प्रशासन

सोनीपत . सफाई करवाने पहुंचे प्रशासनिक अधिकारियों के विरोध में कूड़े के ढेर पर ही लेटी महिलाएं। भास्कर न्यूज |...

Dainik Bhaskar

May 18, 2018, 04:05 AM IST
सामाजिक संगठन के साथ कचरा उठाने निकले डीसी काे मारा धक्का कूड़े के ढेर पर लेटीं महिला सफाईकर्मी, कूड़ा उठाए बिना लौटा प्रशासन
सोनीपत . सफाई करवाने पहुंचे प्रशासनिक अधिकारियों के विरोध में कूड़े के ढेर पर ही लेटी महिलाएं।

भास्कर न्यूज | सोनीपत

सफाई कर्मचारियों की हड़ताल से शहर नौ दिन से गंदगी से जूझ रहा है। समाधान के लिए गुरुवार काे डीसी विनय सिंह सामाजिक संगठनों को साथ सफाई अभियान चलाने निकले। जैसे ही कचरा उठाने रेस्ट हाउस के पास पहुंचे तो सफाई कर्मचारियों ने उनका घेराव किया। डीसी को कचरे के ढेर से एक पॉलीथिन तक नहीं उठाने दी। इसके बाद पुलिस ने बल प्रयोग कर कचरा उठाने का प्रयास किया, लेकिन महिला सफाई कर्मचारी कचरे के ढेर पर ही लेट गई। एसएचओ सिविल लाइन, महिला एसएचओ सहित अन्य ने सफाई कर्मचारियों को कचरे के ढेर से खींचकर खदेड़ना शुरू किया तो बात हाथापाई तक पहुंच गई और सफाई कर्मचारी सड़क पर ही लेट गए। यहां करीब एक घंटा संघर्ष हुआ। इसके बाद प्रशासन बैकफुट पर आ गया। कचरा उठाने वाली मशीन व ट्रैक्टर-ट्राॅली वापस निगम कार्यालय में भेजी गई।


गीता भवन, सुभाष चौक पर जाम, बाजार समय से पहले बंद

कर्मियों ने प्लान से किया प्रशासन का मुकाबला

सफाई कर्मचारियों के साथ हुई खींचतान में महिला थाना प्रभारी के हाथ पर चोट लगी, जबकि डीसी को भी संघर्ष में खींचतान का सामना करना पड़ा। हड़ताली कई गुटों में बिखरे थे, जिन्होंने प्रशासन को पूरी तरह से उलझाए रखा। इस बीच एक नाबालिग ने तो ट्रैक्टर व ट्राॅली में सूएं से पंक्चर करने का प्रयास किया। परंतु डीसी व पुलिस कर्मचारियों ने उसे पकड़ लिया। बाद में भीड़ ने उसकी धुलाई की और पुलिस उसे भीड़ से निकालकर ले गई।

शहर के रेलवे रोड पर शाम 8:00 बजे

रेस्ट हाउस के पास सफाई कर्मचारियों व प्रशासन के बीच जमकर खींचतान होने से रास्ता पूरी तरह से बंद हो गया। हंगामा देख बाजार भी समय से पहले बंद हो गए। रेस्ट हाउस से गीता भवन चौक तक जाम लग गया। रोहतक जाने वाली रोडवेज की बस जाम में फंसी रही। इसके बाद सुभाष चौक की तरफ से गीता भवन को जाने वाले वाहनों को रूट डायवर्ट करके रेलवे स्टेशन की तरफ से निकाला गया। लोगों को भारी परेशानी अव्यवस्था से हुई। यहीं नहीं बाजार भी समय से पहले बंद हो गया।

सोनीपत . सफाई के दौरान हंगामा कर रहे सफाई कर्मचारी नेता को हटाती पुलिस।


आज आ रहे है सीएम, प्रशासन दिखाना चाहता था सफाई

सोनीपत शहर नौ दिन से गंदी से अटा पड़ा है। प्रशासन ने एक दो जगह को छोड़कर कहीं पर भी कचरे को उठाने का बड़ा अभियान शुरू नहीं किया। शुक्रवार को सीएम खरखौदा में एकेडमी का शुभारंम करने आ रहे हैं तो प्रशासन ने सफाई करने की सोची। लोगों में चर्चा रही कहीं प्रशासन कचरा उठान को लेकर यह महज दिखावा तो नहीं था। लोगों ने कहा कि सामाजिक संगठन के साथ सफाई अभियान रेस्ट हाउस से शुरू किया गया जहां कर्मचारी धरना देते हैं। इसकी बजाय शहर के अन्य क्षेत्रों में भी अभियान चल सकता था।

कचरा उठान के दौरान भीड़े सफाई कर्मी

शनिवार को चलेगा सफाई अभियान

प्रशासन गुरुवार को शहर के बीच से कचरा उठाने में विफल रहा। डीसी विनय सिंह ने व्यापारियों की गुरुवार शाम को फिर से बैठक ली। जिसमें निर्णय लिया गया कि अब शनिवार को शहर के अंदर सामाजिक संगठन की मदद से सफाई अभियान चलाया जाएगा। डीसी ने इससे पहले शाम पांच बजे भी बैठक ली थी और कचरा उठाने का निर्णय लिया था।

कचरे के कारण सड़क वन-वे

सोनीपत शहर की कई सड़कें गुरुवार को कचरे के कारण वन-वे हो गई। सेक्टर 23 के पास महलाना मार्ग के बीच में कचरा डाल दिया। शहर की सड़कों पर अब कचरा करीब एक हजार टन हो गया है। लोग कचरे से उठाने वाली बदबू से परेशान हैं। देर रात कर्मचारियों ने निगम कार्यालय के बाहर ही डेरा जमा लिया और यहीं रात बिताई। कर्मचारी नेताओं ने भाषण बाजी की। पुलिस व प्रशासनिक अधिकारी रेस्ट हाउस में डटे रहे।

X
सामाजिक संगठन के साथ कचरा उठाने निकले डीसी काे मारा धक्का कूड़े के ढेर पर लेटीं महिला सफाईकर्मी, कूड़ा उठाए बिना लौटा प्रशासन
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..