• Hindi News
  • Haryana
  • Kharkhoda
  • Kharkhoda - खांडा में 30 एकड़ में बनेगा देश का पहला आर्म्ड फोर्स प्रिपरेटरी इंस्टीट्यूट
--Advertisement--

खांडा में 30 एकड़ में बनेगा देश का पहला आर्म्ड फोर्स प्रिपरेटरी इंस्टीट्यूट

खरखौदा सीमा से सटे खांडा गांव में आर्म्ड फोर्स प्रिपरेटरी इंस्टीट्यूट बनाया जाएगा। इस पर करीब 50 करोड़ रुपए की राशि...

Dainik Bhaskar

Sep 17, 2018, 02:51 AM IST
Kharkhoda - खांडा में 30 एकड़ में बनेगा देश का पहला आर्म्ड फोर्स प्रिपरेटरी इंस्टीट्यूट
खरखौदा सीमा से सटे खांडा गांव में आर्म्ड फोर्स प्रिपरेटरी इंस्टीट्यूट बनाया जाएगा। इस पर करीब 50 करोड़ रुपए की राशि खर्च किए जाने का प्रपोजल है। सीएम मनोहर लाल खट्टर इसी वर्ष खांडा गांव में करीब 30 एकड़ में बनने वाले इस इंस्टीट्यूट की आधारशिला रख सकते हैं। इसमें 10वीं कक्षा के बाद सेना के लिए जवान तैयार किए जाएंगे। मिनिस्ट्री ऑफ कॉर्पोरेट अफेयर्स ऑफ इंडिया के दक्षिण रीजन के रीजनल डायरेक्टर डा. राज सिंह ने सीएम मनोहर लाल खट्टर के सामने वर्ष 2017 में यह प्रपोजल रखा था जिस पर सीएम साहब ने सहमति जताई थी। जिसके बाद तत्कालीन डीसी केएम पांडुरंग ने मौके पर पहुंचकर पंचायत की इस जमीन का मुआयना भी किया था। डा. राज सिंह से इस बारे में बातचीत की गई तो उन्होंने बताया कि नवंबर में सीएम मनोहर लाल खट्टर इस इंस्टीट्यूट की आधारशिला रख सकते हैं। गांव पंचायत इसके लिए प्रस्ताव भी कर चुकी है। गांव सरपंच अतर सिंह का कहना है कि गांव पंचायत इसके लिए पूरी तरह से तैयार है। ताकि खांडा गांव में इस तरह सक इंस्टीट्यूट बने। इस तरह से यह खांडा में देश का पहला इंस्टीट्यूट होगा।

खांडा गांव के निवासी व मिनिस्ट्री ऑफ कॉर्पोरेट अफेयर्स ऑफ इंडिया के नार्थ रीजन के रीजनल डायरेक्टर डा. राज सिंह ने सीएम के सामने पिछले वर्ष उठाई थी मांग

इस तरह से देश का पहला इंस्टीट्यूट होगा खांडा गांव में : गांव के लोगों को मिलेगा 1 प्रतिशत आरक्षण

ये है पूरा प्रोजेक्ट प्लान

खांडा गांव में 32 एकड़ में प्रस्तावित आर्म्ड फोर्स प्रिपरेटरी इंस्टीट्यूट बनाने की योजना के मुताबिक प्रोजेक्ट प्लान में बताया गया है कि देश की कुल आबादी का 2.09 प्रतिशत आबादी ही हरियाणा में रहती है। लेकिन इसके बाद भी इंडियन आर्मी में 10 प्रतिशत हिस्सेदारी हरियाणा प्रदेश से है। वर्ष इंडियन मिलिट्री एकेडमी आईएमए में वर्ष 2017 में 832 इंडियन कैडेट पास आउट हुए हैं। इनमें से 107 कैंडिडेट हरियाणा प्रदेश से हैं। जो करीब 13 प्रतिशत ऑफिसर हैं। अधिकतर युवा कोचिंग के लिए दिल्ली व अन्य स्थानों पर ट्रेनिंग लेने के लिए जाते हैं। इससे गरीब युवा कोचिंग नहीं ले पाते, जिसके कारण वे पिछड़ रहे हैं। इस इंस्टीट्यूट से गरीबों को भी फायदा होगा।

1709 में बंदा वीर बैरागी ने खांडा में बनाया था प्लान

बताया जाता है कि वर्ष 1709 में भारतीयों के लिए पापुलर बंदा वीर बैरागी सोनीपत जिले के खांडा गांव में गुरु गोविंद का आशीर्वाद लेकर आए थे। यहां पर 9 महीने रहकर उन्होंने अपनी सेना बनाकर मुगल साम्राज्य से युद्ध लड़ने के लिए तैयारी की। खांडा गांव में ही वीर बंदा बैरागी ने अपनी मिलिट्री का पहला हेडक्वार्टर बनाया था और मुगलों से लड़ाई लड़ी थी। खांडा व आसपास के गांवों के लोगों ने बंदा वीर बैरागी की सेना में भर्ती होकर लड़ाई लड़ाई।

नवयुवकों को मिलेगी ट्रेनिंग

खांडा गांव में प्रस्तावित इंस्टीट्यूट में नेशनल डिफेंस एकेडमी एनडीए, इंडियन मिलिट्री एकेडमी आईएमए, ऑफिसर्स ट्रेनिंग एकेडमी ओटीए व सेंट्रल आर्म्ड फोर्सेस, जिसमें सीएपीएफ, सीआरपीएफ, बीएसएफ, सीआईएसएफ के लिए आफिसर्स की ट्रेनिंग दी जा सकेगी। 10वीं पास युवाओं की परीक्षा लेकर युवाओं को चयन होगा। इसके बाद उन्हें ट्रेनिंग देकर मिलिट्री में भर्ती के लिए तैयार कराया जाएगा। 10वीं पास युवाओं की 11वीं व 12वीं जबकि 12वीं पास युवाओं का बीए व बीएसई में दाखिला कराया जाएगा।

नवंबर में रखी जा सकती है नींव


जमीन संबंधी पूरा रिकाॅर्ड तैयार


X
Kharkhoda - खांडा में 30 एकड़ में बनेगा देश का पहला आर्म्ड फोर्स प्रिपरेटरी इंस्टीट्यूट
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..