Hindi News »Haryana »Khijrabad» बन संतौर के हाथी भी ठिठुरे, गर्म रखने के लिए छह किलो तिल के तेल से हो रही मालिश

बन संतौर के हाथी भी ठिठुरे, गर्म रखने के लिए छह किलो तिल के तेल से हो रही मालिश

लक्ष्मी, लिली चंचल की डाइट भी बदली बनसंतोरमें रखी तीन मादा हाथियों लक्ष्मी, लिली चंचल को बदन में गर्माहट देने के...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jan 08, 2018, 02:25 AM IST

लक्ष्मी, लिली चंचल की डाइट भी बदली

बनसंतोरमें रखी तीन मादा हाथियों लक्ष्मी, लिली चंचल को बदन में गर्माहट देने के लिए तिल के तेल की मालिश की जा रही है। एक हाथी के बदन पर कम से कम 6 किलो तेल की मालिश की जाती है ताकि वह ठंड से अपना बचाव कर सके। जानवरों के लिए दलिया की खुराक बढ़ा दी गई है। दलिया में शीत से बचने के लिए तिल डाले जा रहे हैं।

बिरमजीत भारती / खिजराबाद | सप्ताहभरसे पड़ रही कड़ाके की ठंड से जीव जंतु बेहद परेशान हैं। खासतौर पर बन संतौर के हाथी ठंड से ज्यादा ठिठुर रहे हैं। इनके शरीर को गर्म रखने के लिए अब वन कर्मचारी तिल के तेल की मालिश कर रहे हैं। शीत के प्रकोप से बचने के लिए ज्यादातर जीव बिलों में दुबक गए हैं। बन बकरा जैसे जानवर पहाड़ की ऊंची चोटी पर जाकर धूप का इंतजार करने में दिन गुजार रहे हैं जबकि कुछ जंगली जानवर उछलकूद कर ठंड से खुद का बचाव कर रहे हैं। वाइल्ड लाइफ के चीफ कंजरवेटर एमएल राजवंशी ने बीते रोज कलेसर का दौरा कर विभागीय अधिकारियों जानवरों को दी जा रही सुविधाओं की विस्तार से जानकारी ली।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Khijrabad News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: ban sntaur ke haathi bhi thithure, garm rkhne ke liye chhh kilo til ke tel se ho rhi maalish
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Khijrabad

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×