• Hindi News
  • Haryana
  • Khijrabad
  • 6 स्क्रीनिंग प्लांट्स व एक स्टोन क्रेशर पर प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने की सीलिंग
--Advertisement--

6 स्क्रीनिंग प्लांट्स व एक स्टोन क्रेशर पर प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने की सीलिंग

प्रदूषण नियंत्रण विभाग ने ताजेवाला के समीप अवैध रूप से चलाए जा रहे छह स्क्रीन प्लांट्स पर को सील का दिया है। एक...

Dainik Bhaskar

Feb 07, 2018, 04:40 AM IST
6 स्क्रीनिंग प्लांट्स व एक स्टोन क्रेशर पर प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने की सीलिंग
प्रदूषण नियंत्रण विभाग ने ताजेवाला के समीप अवैध रूप से चलाए जा रहे छह स्क्रीन प्लांट्स पर को सील का दिया है। एक स्टोन क्रेशर के खिलाफ भी जांच टीम ने सीलिंग की कार्रवाई की है। गौरतलब है कि विभाग स्टोन क्रेशर जोन में पहले भी 35 स्क्रीन प्लाटों को सील लगा चुका है। विभाग द्वारा की गई कार्रवाई से क्रेशर संचालकों में हड़कंप मचा हुआ है। बोर्ड की टीम ने यमुना नदी किनारे लगे स्क्रीनिंग प्लांट्स पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। मंगलवार को टीम ने नदी किनारे लगे 6 प्लांट्स व एक स्टोन क्रशर को सील कर जवाब तलब किया है। बीते दो सालों में नदी किनारे व स्टोन क्रेशर जोन के आस पास लगभग दो सौ स्क्रीनिंग प्लांट स्थापित किए गए हैं। विभाग अवैध रूप से चलाए जा रहे प्लांट संचालकों को कागजात पूरे करने के लिए कई बार नोटिस जारी कर चुका है। इसके लिए एक साल का समय दिया गया था। उसके बावजूद कुछ इकाइयां अभी तक विभाग द्वारा लगाई गई शर्तें पूरी नहीं कर रही हैं। लेकिन कन्साइनमेंट की अवधि समाप्त हुए भी लगभग छह महीने बीत चुके हैं। लेकिन तब तक भी प्लांट संचालकों ने पैरामीटर पूरे नहीं किए गए हैं।

प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के एसडीओ नरेश शर्मा ने बताया कि प्रदूषण नियंत्रण विभाग से बिना परमिशन लिए जो स्क्रीनिंग प्लांट्स चलाए जा रहे हैं या नए लगाए जा रहे हैं उन पर भी कानूनी कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने बताया कि पहले कन्साइनमेंट अवधि वाले स्क्रीन प्लांटों पर कार्रवाई की जा चुकी है। बिना परमिशन के किसी भी स्क्रीन को चलाने की इजाजत नहीं दी जाएगी। यदी कोई इकाई बिना विभाग की परमिशन के चलती पाई गई तो उसे सील कर दिया जाएगा।

खिजराबाद | स्क्रीनिंग प्लांट में सील लगाते प्रदूषण िनयंत्रण बोर्ड के अधिकारी।

बिना नाम-पते से चल रहे प्लांट

यमुना नदी एरिया में बहुत से प्लांट्स स्थापित किए गए हैं लेकिन न तो स्क्रीनिंग पर कोई नाम का बोर्ड लगा है न ही कही एड्रेस लिखा गया है। कुछ इकाइयों का यह तक पता नहीं कि वह यूपी एरिया में हैं या हरियाणा क्षेत्र में। कई तो ट्रैक्टर ट्रॉली पर भी चलते फिरते स्कीनिंग का काम कर रहे हैं।

X
6 स्क्रीनिंग प्लांट्स व एक स्टोन क्रेशर पर प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने की सीलिंग
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..