Hindi News »Haryana »Khijrabad» बैराज पर जलस्तर घटा, हरियाणा-यूपी की सप्लाई बंद

बैराज पर जलस्तर घटा, हरियाणा-यूपी की सप्लाई बंद

लगातार गिरते जलस्तर के कारण हथनीकुंड बैराज पर सोमवार सुबह 6 बजे नदी का जल बहाव घटकर मात्र 1348 क्यूसिक रह गया है। जल की...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 22, 2018, 02:20 AM IST

बैराज पर जलस्तर घटा, हरियाणा-यूपी की सप्लाई बंद
लगातार गिरते जलस्तर के कारण हथनीकुंड बैराज पर सोमवार सुबह 6 बजे नदी का जल बहाव घटकर मात्र 1348 क्यूसिक रह गया है। जल की उपलब्धता कम हो जाने के कारण हरियाणा व यूपी के हिस्से पानी नहीं आ रहा है। जानकारों का मानना है कि यदि लम्बे समय तक यही स्थिति बनी रही जो आने वाले दिनों में पेयजल व कृषि सिंचाई के लिए जल संकट खड़ा हो सकता है।

हथनीकुंड बैराज पर यमुना नदी का जल बहाव सिमट कर नाले के रूप में बह रहा है। कई दिनों से पड़ रही भीषण गर्मी व लू से जहां एक ओर पानी की डिमांड बढ़ कर कई गुना हो गई है। वहीं दूसरी तरफ नदी का जल बहाव लगातार कम होता जा रहा है। बीते 15 दिनों से जल बहाव घट कर केवल मात्र 1348 क्यूसिक रह गया है। कॉमन पूल से दिल्ली राज्य को पेयजल के लिए 881 क्यूसिक पानी तथा जीव जन्तुओं के लिए बैराज से 352 क्यूसिक जल नदी में छोड़े जाने के बाद हरियाणा व यूपी के हिस्से पानी नहीं आ पा रहा है। दूसरी ओर भीषण गर्मी के कारण जल के सांझेदार राज्यों यूपी से 3 हजार व हरियाणा से 6 हजार क्यूसिक पानी की डिमांड की जा रही है। हथनीकुंड कंट्रोल रूम से मिली जानकारी के मुताबिक सोमवार सुबह 6 बजे नदी का जल बहाव 1348 क्यूसिक रहा। कॉमन पूल से दिल्ली को 881 क्यूसिक पानी की आपूर्ति की गई। बैराज से 352 क्यूसिक पानी जीव जन्तुओं के लिए नदी में छोड़ा गया। शेष 115 क्यूसिक पानी हरियाणा के हिस्से बचा जिसे डब्लूजेसी में छोड़ा गया। बैराज से यूपी की जलापूर्ति रोक दी गई।

गौरतलब है कि यदि नदी में पानी की उपलब्धता 2500 क्यूसिक से नीचे चली जाती है तो यूपी राज्य का शेयर नहींं बनता और जलापूर्ति रोक दी जाती है। पानी की उपरोक्त स्थिति दोपहर 12 बजे तक बनी रही। दोपहर 12 बजे जाकर पानी की स्थिति में कुछ सुधार आया। लेकिन यह स्थिति ज्यादा देर तक नही टिक पाई। दोपहर में 4314 क्यूसिक जल बहाव बना रहा। दोपहर को यूपी को 841 व हरियाणा को 2240 क्यूसिक पानी दिया गया। दिल्ली को 881 क्यूसिक की आपूर्ति की गई। बैराज से 352 क्यूसिक पानी नदी जल बहाव बनाए रखने तथा जीव जन्तुओं के लिए छोड़ा गया। शाम 4 बजे फिर से जल बहाव कम होकर 1246 क्यूसिक पर पहुंच गया। ताजेवाला जल सेवाएं मंडल के एसडीओ धर्म पाल ने बताया कि हरियाणा से छह हजार क्यूसिक तथा यूपी से तीन हजार क्यूसिक पानी की मांग की जा रही है। लेकिन नदी का जल बहाव घटकर बहुत कम हो गया है। दिल्ली को कॉमन पूल से 881 क्यूसिक जलापूर्ति की जा रही है।

सिकुड़ी नदी

हथनीकुंड बैराज पर यमुना का जल स्तर 1348 क्यूसिक रहा, सिंचाई के साथ बिजली उत्पादन में भी संकट

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Khijrabad

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×