• Home
  • Haryana News
  • Khijrabad
  • बाढ़ प्रशिक्षण शिविर शुरू, 70 को दी जाएगी ट्रेनिंग
--Advertisement--

बाढ़ प्रशिक्षण शिविर शुरू, 70 को दी जाएगी ट्रेनिंग

बाढ़ राहत प्रशिक्षण शिविर में ट्रेनिंग लेकर आपदा में फंसे लोगों की जानमाल की सुरक्षा करें। अपने अनुभव से दूसरे...

Danik Bhaskar | Jun 05, 2018, 02:25 AM IST
बाढ़ राहत प्रशिक्षण शिविर में ट्रेनिंग लेकर आपदा में फंसे लोगों की जानमाल की सुरक्षा करें। अपने अनुभव से दूसरे लोगों को भी ट्रेनिंग दें। ट्रेनिंग के दौरान पूरे अनुशासन में रहें, अपनी सुरक्षा का भी पूरा ध्यान रखें। एसडीएम बिलासपुर नवीन आहुजा ने हथनीकुंड बैराज पर बाढ़ राहत प्रशिक्षण शिविर का उद्घाटन करते हुए सोमवार को यह बातें कहीं।

सोमवार को हथनीकुंड बैराज पर पश्चिमी यमुना नहर के बहते पानी पर बाढ़ राहत प्रशिक्षण शिविर शुरू किया गया है। इस अवसर पर एसडीएम नवीन आहुजा ने मुख्य अतिथि के तौर पर बोलते हुए कहा कि मानसून सीजन में अक्सर बाढ़ का पानी नुकसान पहुंचाता रहता है। खिजराबाद ब्लाक में यमुना व अन्य बरसाती नदियों में बाढ़ से खतरा बना रहता है। रोहतक में लेक पर व कुरुक्षेत्र में ब्रह्म सरोवर पर बाढ़ राहत प्रशिक्षण शिविर लगाए जाते हैं। हथनीकुंड बैराज पर नदी के तेज बहाव में बहते पानी पर नाव चलाने की ट्रेनिंग दी जाती है। एसडीएम ने बताया कि ट्रेनिंग कैम्प में प्रदेश के अलग-अलग भागों से 70 लोग प्रशिक्षण लेने पहुंचे हैं। शिविर में 4 से 8 जून तक बाढ़ बचाव की ट्रेनिंग दी जाएगी। आहुजा ने कहा कि अनुशासन में रह कर प्रशिक्षण लें तथा अपने अपने एरिया में जाकर अन्य लोगों को भी ट्रेनिंग दें। इस अवसर पर जिला राजस्व अधिकारी हरिओम बिश्नोई, डीईओ आनंद चौधरी, तहसीलदार रादौर अशोक कुमार, तहसीलदार जगाधरी दर्शन लाल बिश्नोई, नायब तहसीलदार खिजराबाद कृष्ण कुमार, बीडीपीओ छछरौली जोगेश कुमार, बीडीपीओ खिजराबाद नरेंद्र कुमार मलहोत्रा, राजीव हसन, लयाकत अली, फारेस्टर नरेश कुमार सैनी, सुशील वालिया, मुख्य ट्रेनर जयभगवान, भगत सिंह व साहब राम मौजूद थे।

खिजराबाद | हथनीकुंड पर राज्य स्तरीय बाढ़ प्रशिक्षण शिविर में उपस्थित अधिकारी।