• Home
  • Haryana News
  • Khijrabad
  • कलयुग के दौर में श्रीराम कथा दर्पण है-बिजेंद्र
--Advertisement--

कलयुग के दौर में श्रीराम कथा दर्पण है-बिजेंद्र

ईश्वर को पाने के लिए अपने आप को मिटाना पड़ता है। कलयुग के दौर में श्रीराम कथा दर्पण है। जिस प्रकार दर्पण इंसान का...

Danik Bhaskar | Jun 12, 2018, 02:35 AM IST
ईश्वर को पाने के लिए अपने आप को मिटाना पड़ता है। कलयुग के दौर में श्रीराम कथा दर्पण है। जिस प्रकार दर्पण इंसान का बाहरी रूप दिखाता है। उसी प्रकार राम कथा हमारे अंदर के रूप को दिखाती है। राम कथा सुनने से इंसान के पाप दूर हो जाते हैं। उक्त प्रवचन बिजेंद्र शास्त्री ने गांव बहादुरपुर में कथा में कहे। खिजराबाद के समीप बहादुरपुर श्रीराम कथा का शुभारंभ करते हुए बिजेंद्र शास्त्री ने कहा कि कथा वहीं होती है जहां भगवान का वास होता है। जहां कथाएं नहीं होती वहां व्यथाएं होती हैं। उन्होंने कहा कि कथा सुनने का सौभाग्य भी भगवान की कृपा से ही प्राप्त होता है। इस अवसर पर महंत सुबोधानंद, खिजराबाद अनाज मंडी एसोसिएशन के प्रधान प्रवीन बटार, राधे लाल, नरेश सिंगला, सत्य पाल रोहिला, दीपक वालिया, अमर बटार, राजेंद्र कुमार,अशोक कुमार, विजय, राज कुमार, नरेश कुमार, अशोक गर्ग,जगदीप जैन, कंवर पाल, नरेंद्र कुमार व रूप चंद मौजूद रहे।