Hindi News »Haryana »Khijrabad» बहादुरपुर में व्यायामशालाओं का कार्यों में जुटा प्रशासन

बहादुरपुर में व्यायामशालाओं का कार्यों में जुटा प्रशासन

स्पीकर के गांव बहादुरपुर में अधूरी पड़ी व्यायामशाला का समाचार छपते ही जिला प्रशासन हरकत में आ गया है। वीरवार को...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 04, 2018, 02:40 AM IST

बहादुरपुर में व्यायामशालाओं का कार्यों में जुटा प्रशासन
स्पीकर के गांव बहादुरपुर में अधूरी पड़ी व्यायामशाला का समाचार छपते ही जिला प्रशासन हरकत में आ गया है। वीरवार को व्यायामशाला के अधूरे पड़े कामों को पूरा करने के लिए मजदूरों की संख्या बढ़ा दी गई है। दिनभर अधिकारियों की गाड़ियां इधर से उधर दौड़ती रही। ताकि कार्य को समय से पूरा कराया जा सके।

विधानसभा स्पीकर कंवरपाल के पैतृक गांव बहादुर पुर में लगभग 34 लाख की लागत से दो एकड़ जमीन पर व्यायामशाला व पार्क का निर्माण किया गया है। जिस का शुभारंभ सीएम पांच मई को पंचकूला से करेंगे। खंड खिजराबाद की बेगमपुर व बहादुरपुर में दो नवनिर्मित व्यायामशालों का उद्घाटन किया जाना है। जिन व्यायामशालाओं को उद्घाटन होना है उनके बहुत से कार्य अभी तक अधूरे पड़े हुए हैं। गांव बेगमपुर की व्यायामशाला का रास्ता अभी तक पक्का नहीं किया गया है। गांव से दूर मालीमाजरा मार्ग पर बनी व्यायामशाला को जाने वाला रास्ता मिट्टी से सना हुआ है। पार्क तक पहुंचने के लिए अन्य कोई मार्ग भी नहीं है। बिजली पानी की व्यवस्था अभी की जानी शेष है। पार्क की चार दीवारी व ट्रैक का काम पूरा कर लिया गया है। बहादुरपुर पार्क एवं व्यायामशाला को अब युद्धस्तर पर पूरा किया जा रहा है। काम पर लगे मजदूरों की संख्या बढ़ा दी गई है। शेड को पूरा करने के कार्य पर ठेकेदार ने लेबर व मशीनों को दिनभर लगाए रखा। पार्क के प्रवेश द्वारा पर गटका डाल कर फर्श डालने का काम शुरू कर दिया गया है।

खिजराबाद | बहादुरपुर व्यायामशाला में काम करते मजदूर।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Khijrabad News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: बहादुरपुर में व्यायामशालाओं का कार्यों में जुटा प्रशासन
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Khijrabad

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×