Hindi News »Haryana »Kurukshetra» जिम में कमर की एक्सरसाइज कर रहा था मॉरीशस का निट छात्र, सीने में दर्द के बाद मौत

जिम में कमर की एक्सरसाइज कर रहा था मॉरीशस का निट छात्र, सीने में दर्द के बाद मौत

राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान (एनआईटी) में बीटेक इलेक्ट्रिकल तीसरे वर्ष में पढ़ने वाले मॉरीशस के एक छात्र की जिम...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 02, 2018, 02:30 AM IST

राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान (एनआईटी) में बीटेक इलेक्ट्रिकल तीसरे वर्ष में पढ़ने वाले मॉरीशस के एक छात्र की जिम में एक्सरसाइज करते समय मौत हो गई। शनिवार रात को करीब पौने नौ बजे जिम में एक्सरसाइज करते समय छात्र परीक्षित सिंह की छाती में दर्द हुआ।

इसके बाद वह नीचे लेट गया। इसपर उसके दोस्त और जिम संचालक एक निजी अस्पताल में लेकर पहुंचे। जहां पर चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। देर रात को विदेश मंत्रालय में एनआईटी और पुलिस प्रशासन की ओर से सूचना दी गई। इसके बाद विदेश मंत्रालय से पोस्टमार्टम करवाने की अनुमति ई-मेल से दोपहर बाद मिली। इसपर एलएनजेपी अस्पताल में छात्र के शव का पोस्टमार्टम कराया गया। हालांकि छात्र की मौत का सही कारण क्या है, इस बारे में चिकित्सकों ने भी पुलिस को नहीं बताया। चिकित्सकों ने कहा कि विसरा जांच रिपोर्ट आने के बाद ही मौत के सही कारण का पता चल पाएगा।

परीक्षित की फाइल फोटो

डेढ़ साल से कर रहा था जिम : संजय भारद्वाज

जिम संचालक संजय भारद्वाज ने बताया कि परीक्षित सिंह पिछले डेढ़ साल से उनके जिम में आ रहा था। वह शाम को सवा आठ से सवा नौ बजे तक जिम करता था। उन्होंने बताया कि छात्र ने कभी उनसे कोई प्रॉडक्ट आदि नहीं लिया। संजय ने कहा कि परीक्षित कभी किसी से ज्यादा बात नहीं करता था और एक्सरसाइज भी खुद अपनी मर्जी से करता था। उन्होंने कहा कि जिस समय परीक्षित को दर्द हुआ वह कमर की एक्सरसाइज कर रहा था और वे भी वहीं मौजूद थे। एनआईटी के छात्र कल्याण अधिष्ठाता प्रो. सत हंस ने बताया कि बीटेक तीसरे वर्ष में पढ़ने वाला परीक्षित पढ़ाई में भी अच्छा था। उसकी किसी भी पेपर में रिअपीयर नहीं थी। उन्होंने कहा कि परीक्षित की कभी कोई शिकायत न तो हॉस्टल नंबर सात जहां वह रहता था वहां से मिली और न ही विभाग से। उन्होंने बताया कि छात्र के शव को विदेश मंत्रालय के माध्यम से मॉरीशस भेजा जाएगा।

खाने-पीने का रखता था पूरा ख्याल

दोस्तों ने बताया कि परीक्षित बाहर की चीजों को खाने से परहेज करता था। वह खाने-पीने का खासतौर पर ख्याल रखता था। इतना ही नहीं वह तली चीजों और घी से भी परहेज रखता था। जिम करते समय किसी तरह का प्रॉडक्ट लेने की बात पर उसके दोस्तों ने बताया कि इस बारे में उन्हें कोई जानकारी नहीं है।

विसरा रिपोर्ट से होगा मौत का खुलासा

मामले के जांच अधिकारी रिषीपाल ने बताया कि छात्र परीक्षित का पोस्टमार्टम करवा दिया गया है। उन्होंने बताया कि विसरा जांच रिपोर्ट को मधुबन भेजा जाएगा। विसरा रिपोर्ट आने के बाद ही पता चलेगा कि छात्र की मौत के क्या कारण रहे। उन्होंने बताया कि छात्र के कमरे से डाइट का पूरा चार्ट मिला है। इससे साफ है कि परीक्षित अपने खाने-पीने का पूरा ख्याल रखता था। उन्होंने बताया कि छात्र के शव को विदेश मंत्रालय के माध्यम से मॉरीशस में भिजवाया जाएगा। वहीं डॉ. बलराज ने बताया कि छात्र की केमिकल व विसरा रिपोर्ट आने के बाद ही मौत के कारण के बारे में पता चलेगा। फिलहाल मौत कैसे हुई इस बारे में कुछ नहीं कहा जा सकता।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kurukshetra

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×