• Hindi News
  • Haryana News
  • Kurukshetra
  • युवा पीढ़ी को महान संतों के जीवन से शिक्षा और संस्कार ग्रहण करने की जरूरत: सुधा
--Advertisement--

युवा पीढ़ी को महान संतों के जीवन से शिक्षा और संस्कार ग्रहण करने की जरूरत: सुधा

विधायक सुभाष सुधा ने कहा कि देश को विश्व गुरु बनाने के लिए संत शिरोमणि गुरु रविदास जैसे महान लोगों के आदर्शों का...

Dainik Bhaskar

Feb 01, 2018, 03:50 AM IST
विधायक सुभाष सुधा ने कहा कि देश को विश्व गुरु बनाने के लिए संत शिरोमणि गुरु रविदास जैसे महान लोगों के आदर्शों का अनुसरण करना होगा। युवा पीढ़ी को महान संतों के जीवन से शिक्षा और संस्कार ग्रहण करने की जरूरत है।

सुधा बुधवार को संत गुरुरविदास मंदिर धर्मशाला में संत रविदास जी की 641वीं जयंती कार्यक्रम में बतौर मुख्यातिथि बोल रहे थे। सुधा ने रविदास धर्मशाला व मंदिर कुरुक्षेत्र में हाल निर्माण कार्य के लिए 6 लाख रुपए अनुदान देने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि हलका थानेसर के 57 गांवों में करोड़ों रुपए की लागत से हरिजन समाज के लोगों के साथ अन्य सभी समाज के लोगों के लिए चौपालों का निर्माण किया जाएगा। हलके भर में करोड़ों रुपए के विकास कार्य चल रहे हैं। अमीन की पंचायत के पास करीब तीन करोड़ का बजट भेजा भी जा चुका है। इस राशि से विभिन्न गांवों को जाने वाली सड़कों, स्कूल की चारदीवारी, पीने के पानी, गलियों का निर्माण आदि कराया जा रहा है। कार्यक्रम में भाजपा नेता सूरजभान कटारिया, पूर्व मंत्री मुन्नी लाल रंगा, पूर्व विधायक जोगी राम, प्रधान फकीर चंद, उपप्रधान रामपाल, बलेराम रंगा, मांगेराम, ताराचंद नरवाल, कृष्णचंद रंगा, राजकुमार, मियां सिंह रंगा, हरि सिंह, थानेसर ब्लाक समिति के प्रधान देवीदयाल शर्मा, सोमनाथ, राधेश्याम वधवा, राजेंद्र सरपंच घराड़सी, संत मनदीप दास, टीआर बिबियान, पुनर्वसु, राजीव, अशोक, राजेंद्र, राजेश गुर्जर, शमशेर,मान सिंह, ओमप्रकाश किरमिच मौजूद थे।

कुरुक्षेत्र | रविदास मंदिर में रविदास जयंती पर आयोजित कार्यक्रम में संत रविदास के चित्र पर पुष्प अर्पित करते विधायक सुभाष सुधा व अन्य।

रामगढ़ में मनाई जयंती

कुरुक्षेत्र | गांव रामगढ़ में बुधवार को रविदास जयंती पर कार्यक्रम आयोजित किया गया। जिसमें जिला कांग्रेस के पूर्व कार्यकारी अध्यक्ष मेहर सिंह रामगढ़ और सरपंच रोशन लाल मुख्यातिथि रहे। मेहर सिंह रामगढ़ ने कहा कि संत रविदास ने जन जागरण अभियान चलाकर लोगों को जागरूक किया। उन्होंने कहा कि संत रविदास ने कहा था कि व्यक्ति की पहचान उसके जन्म से नहीं बल्कि उसके कर्मों से होती है। इसलिए हम सभी को अच्छे कर्म करने चाहिए। इस मौके पर ग्रामीण मौजूद रहे।

गुरु रविदास सामाजिक सद्भाव के प्रतीक : श्रीप्रकाश : मातृभूमि सेवा मिशन में भी गुरु रविदास जयंती मनाई गई। मिशन संयोजक डॉ. श्रीप्रकाश मिश्रा ने कहा कि रविदास एक महान संत, दार्शनिक, कवि, समाज सुधारक थे। अपनी रचनाओं के माध्यम से अपने अनुयायियों, समाज को धार्मिक एवं सामाजिक संदेश दिया। गुरु रविदास ने भाईचारे, शांति की सीख दी। गुरु रविदास जी सामाजिक सद्भाव के प्रतीक थे।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..