कुरुक्षेत्र

--Advertisement--

हरियाणा: बॉक्सर मनोज की हमसफर होंगी मथाना की नेहा

ग्रोइन इंजरी से जूझ रहे बॉक्सर मनोज कुमार 11 अक्टूबर को कुरुक्षेत्र की नेहा से करेंगे शादी

Danik Bhaskar

Sep 09, 2018, 07:22 AM IST
मनोज कुमार और नेहा मनोज कुमार और नेहा

कुरुक्षेत्र. ओलिंपियन बॉक्सर मनोज कुमार एशियन गेम्स में प्री क्वार्टर फाइनल तक का सफर तय करने के बाद भारत वापस आ चुके हैं। अब वे शादी के बंधन में बंधने जा रहे हैं। हिंदू रीति रिवाज से 16 सितंबर को उनकी सगाई होगी। 11 अक्टूबर को बारात दुल्हन लेने जाएगी और उसी दिन शाम को रिसेप्शन पार्टी होगी। रिसेप्शन पार्टी में कई खेल हस्तियाें व राजनीति नेताओं के आने की उम्मीद जताई जा रही है।

पहली बार में ही भा गई : मनोज कुमार बॉक्सर गांव में 30 मार्च से पहले अपने परिवार के साथ नेहा को देखने के लिए आए थे। पूरे परिवार को नेहा पसंद आई। जिसके बाद 30 मार्च को रिश्ता पक्का हो गया। नेहा के पिता पृथ्वी सिंह शुगर मिल करनाल से सेवानिवृत्त हैं। इसके साथ खेती बाड़ी का काम भी करते हैं और लड़की का एक भाई विरेंद्र है, जो हरियाणा पुलिस में कार्यरत है। बॉक्सर मनोज कुमार से विवाह बंधन में बंधने वाली नेहा ग्राक ने ग्रेजुएशन और जेबीटी की है। नेहा ने बताया कि उन्हें बच्चों को पढ़ाने का शौक है।

शादी के बाद करवाएंगे इलाज : 2010 में कॉमनवेल्थ गेम में गोल्ड जीतने वाले मनोज कुमार का एशियन गेम में इस बार प्रदर्शन अपेक्षा के अनुरूप नहीं रहा। वे प्री क्वार्टर फाइनल में हार गए थे। जिसकी प्रमुख वजह उनकी पांच साल पुरानी चोट बताई जा रही है। मनोज कुमार ग्रोइन इंजरी से जूझ रहे है। बॉक्सर मनोज कुमार हमेशा ही अपनी सफलता का श्रेय अपने भाई और कोच राजेश को देते हैं। मनोज कुमार के बॉक्सिंग कोच व भाई राजेश कुमार ने बताया कि पांच साल पुरानी चोट का का टेंपरेरी इलाज करवाया था। लेकिन अक्टूबर में शादी के बाद पूरा इलाज करवाया जाएगा। इसके लिए फेडरेशन से बात भी चल रही है और उनका इलाज मुंबई के कोकिलाबेन हॉस्पिटल में करवाया जाएगा। अबकी बार अच्छी तरह से इलाज होगा। इसके बाद मनोज रिंग में दोबारा वापसी करेंगे।

भाई ही मनोज के कोच : बॉक्सर मनोज कुमार के भाई राजेश कुमार ही उनके कोच हैं। वे कुरुक्षेत्र यूनिवर्सिटी में बॉक्सिंग कोच के पद पर कार्यरत हैं। मनोज ने कहा कि उनका रिश्ता उनके परिवार के लोगों ने ही तय किया है।

मनोज के नाम ये रिकाॅर्ड : 2010 में दिल्ली कॉमनवेल्थ गेम्स में गोल्ड, 2018 कॉमनवेल्थ गेम्स गोल्ड कोस्ट में ब्रांज मेडल, 2007 में एशियन चैंपियनशिप मंगोलिया में ब्रांज मेडल, 2013 जॉर्डन में हुई एशियन चैँपियनशिप में ब्रांज मेडल, साउथ एशियन गेम्स 2016 में गोल्ड।

Click to listen..