पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Kurukshetra News Haryana News Geeta Used To Stay On Her Head Even During Kidney Transplant Sushma Used To Say That Geeta Gets Strength

किडनी ट्रांसप्लांट के दौरान भी सिरहाने रहती थी गीता, सुषमा कहती थीं गीता से मिलती है मजबूती

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
पूर्व केंद्रीय मंत्री सुषमा स्वराज न केवल कुशल कुशल वक्ता और नेत्री थीं, बल्कि उनके पास ज्ञान का अथाह भंडार था। उनका गीता ज्ञान बड़े-बड़े संतों को भी हैरत में डालता था। वे गीता मनीषी थीं। गीता उनके दैनिक जीवन का सबसे अहम हिस्सा थी। वे खुद भी मानती थी कि गीता से ही उन्हें प्रेरणा मिलती है। सन् 2014 में लालकिले में गीता जयंती समारोह में जब उन्होंने गीता पर व्याख्यान दिया तो वहां मौजूद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत कई बड़े संत महात्मा भी अचरज में पड़ गए। सभी ने उनके गीता ज्ञान का लोहा माना। वे गीता के एक-एक अक्षर का चिंतन मनन करती थीं। उनके साथ वे करीब ढाई दशकों से संपर्क में थी। जीओ गीता और कृष्ण कृपा परिवार के साथ जुड़ने के बाद तो गीता के प्रति उनका झुकाव पहले से कहीं ज्यादा हो गया। वे गीता प्ररेणा का भी तीन बार अध्ययन कर चुकी थीं। अब चौथी मर्तबा वे गीता प्ररेणा का अध्ययन कर रही थीं। कुछ दिन पहले ही गीता को लेकर उनके साथ चर्चा हुई थी। गीता की वजह से ही वे कुशल राजनेता, संकल्पित व्यक्तित्व की स्वामी बनी। जब उनका किडनी ट्रांसप्लांट हुआ, तो तब भी गीता अस्पताल में उनके सिरहाने रहती थी। वे खुद कहती थी कि गीता से उन्हें मानसिक मजबूती मिलती है। वे गीता प्ररेणा से ही कई समस्याएं सुलझाती हैं। चाहती थी कि गीता विश्वभर में पहुंंचे।

खबरें और भी हैं...