पिता ने NDA में पूरे देश में किया था टॉप, अब बेटे ने 1st अटेंप्ट में ही बिना कोचिंग के क्रेक कर लिया UPSC

Bhaskar News

Apr 07, 2019, 04:25 PM IST

हरियाणा न्यूज: विक्रम ने बताया कैसे उन्होंने घर पर शुरु की थी तैयारी, इंटरव्यू में बेहद काम आई उनकी यह पढ़ाई

कुरुक्षेत्र (हरियाणा)। यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन (यूपीएससी) के लिए जहां युवा कई साल तक कोचिंग लेकर तैयारी करते हैं वहीं कुरुक्षेत्र के विक्रम ग्रेवाल ने बिना कोचिंग के पहले ही प्रयास में 51वीं रैंक हासिल कर लिया। 22 साल के विक्रम ने पिछले साल ही सेंट स्टीफन कॉलेज दिल्ली से बीए ऑनर्स की पढ़ाई पूरी करने बाद भी घर यूपीएससी की तैयारी शुरू कर दी थी। विक्रम के पिता कर्णवीर ग्रेवाल भारतीय सेना में ब्रिगेडियर हैं, वहीं मां ममतेश ग्रेवाल गृहिणी हैं।

विक्रम के पिता ने बताया बेटे की सफलता के राज

पिता कर्णवीर ग्रेवाल ने बताया कि 10वीं कक्षा के बाद से ही विक्रम का लक्ष्य यूपीएससी पास करने का था। इसलिए वो 11वीं कक्षा से उसकी तैयारी में लग गया था।उसने छठी से 12वीं कक्षा तक एनसीईआरटी की किताबें अच्छी तरह पढ़ी। इसके अलावा इतिहास विषय की कई किताबें पढ़ी। फिर विक्रम ने बैचलर ऑफ आर्ट्स (बीए) में ग्रेजुएशन की डिग्री की। ये सभी यूपीएससी की परीक्षा और इसके बाद इंटरव्यू में बेहद काम आई।

विदेश सेवा में काम करने की इच्छा : विक्रम

विक्रम ने बताया कि उसकी इच्छा विदेश सेवा में काम करने की है। पिता आर्मी में हैं, ऐेसे में उनका इस क्षेत्र की ओर शुरू से ही रुझान है। इसके साथ ही उनके पिता की ड्यूटी कई साल तक जम्मू-कश्मीर में रही है। इसलिए काम करने का यह उनका पसंदीदा क्षेत्र है।

विक्रम के पिता ने किया था एनडीए में टॉप

मूलरूप से भिवानी के गांव बामला के रहने वाले विक्रम के दादा सेंट्रल बैंक के सेवानिवृत्त एमडी ईश्वर ग्रेवाल ने बताया कि विक्रम के पिता कर्णवीर ग्रेवाल ने एनडीए की परीक्षा में देशभर में टॉप किया था। विक्रम की दादी ओमपति ने भी अपने पोते की उपलब्धि पर खुशी जताई।


X
COMMENT